Astro Yatra
India Free Classifieds

Can ask any question

Tarrot Reading

टैरो, कार्डों की रहस्यमयी दुनिया और भविष्य आकलन की सर्वप्रिय विधा। इस शब्द की उत्पत्ति भी रहस्यमय है। टैरो सिर्फ शब्द नहीं, भविष्य और जीवन है। कुछ मानते हैं यह टैरोची शब्द से उत्पन्न हुआ, जो माइनर आर्काना के कार्डों से संबंधित था, तो कुछ इसकी उत्पत्ति टैरोटी से मानते हैं क्रास लाइन जो कि कार्डों के पीछे दिखती है। रहस्यमय संसार की रहस्यमय कहानी, लेकिन भविष्य की कहानी टैरो की जुबानी।

टैरो डेक में कुल ७८ कार्ड होते हैं, जिन्हें मेजर आर्काना तथा माइनर आर्काना में विभक्त किया गया है। आर्काना लैटिन भाषा के शब्द आर्कान्स से उत्पन्न हुआ, जिसका अर्थ है रहस्यमय व्यक्तिगत विकास के रहस्यों से प्रतीकात्मक रूप से अभिलेखित शिक्षाएं लिए मेजर आर्काना गुप्त विज्ञान के छात्रों का गंभीर विषय है।

टैरो डेक में कुल ७८ कार्ड होते हैं, जिन्हें मेजर आर्काना तथा माइनर आर्काना में विभक्त किया गया है। आर्काना लैटिन भाषा के शब्द आर्कान्स से उत्पन्न हुआ, जिसका अर्थ है रहस्यमय व्यक्तिगत विकास के रहस्यों से प्रतीकात्मक रूप से अभिलेखित शिक्षाएं लिए मेजर आर्काना गुप्त विज्ञान के छात्रों का गंभीर विषय है।

Those who believe in tarot and have their cards read regularly say that the readings help them prepare for the future by not only revealing truths about their lives, but also by divulging secrets about people all around them. Experienced psychic tarot card readers claim that they are the only ones who can deliver a truthful reading and caution against just reading interpretations out of the book that comes with the cards. In order to get the best reading from the cards, the one who desires the reading must concentrate on the cards with the psychic reader, and the psychic reader helps that person make contact with the cards and put their own "special vibration" on the deck so the cards will reveal all their mysteries. Readers of tarot cards lay the cards out in special combinations called spreads.

ज्योतिष ज्ञान

img

तिलादी चिन्ह विचार

मस्तक पर तिलादी चिन्ह हों, ललाट पर या...

Click here
img

कुलक्षण षानित क उपाय

जहा तक हो सके सूर्योदय से, कम से कम 20 मिनट पहले...

Click here
img

पंचांग परिचय

13 मास अधिकमास या मलिम्लुच मास या पुरूशोत्तम...

Click here
img

ग्रहषील विवेक

गुरू, व षुक्र ब्राáणों के , सूर्य व मंगल क्षत्रीयों के...

Click here
img

नक्षत्र गुण विचार

यभी 12 राषियों का 27 नक्षत्रों में बाटा गया है। एक नक्षत्र का मान...

Click here
img

यात्रा प्रकरण

शश्ठी, अश्टमी, द्वादषी, अमावस्या, पूर्णिमा, षुक्ल, प्रतिपदा...

Click here
img

षुभ व अषुभ योग

यधपि बहुत से योग (जैसे द्विभार्या योग, संतानहीनता योग, बालारिश्ट योग...

Click here

Consult Our Astrologers

ddodeni

Location: Colton
Contact: 1-732-7958856

Rakesh yadav

Location: Betul
Contact: 9754948434

Pt.Shivam

Location: Haridwar
Contact: 8134812567

rahmatali

Location: Bathurst
Contact: 9779601373

Jyotish Rajyogi

Location: Jaipur
Contact: +91-8440087253

bababangali

Location: delhi
Contact: 07568970077

SULTAN SAHAB

Location: all
Contact: 09001901759

aghori baba ji

Location: ajmer
Contact: 09983428959

pashakhan

Location: ajmer
Contact: 09166714857

molvianwarkhan

Location: jaipur
Contact: +91 9929001273

mamajafali

Location: Capetown
Contact: +27731356845

gurudev bhawani

Location: pushkar
Contact: 9414933996

Can ask any question