logo
India Free Classifieds
Consult Your Problem Helpline No.
8739999912, 9950227806


9 नवम्बर से इन राशि वालों की निकलेगी लॉटरी

आपको इस योग के बारे में बता दे की गुरु पुष्य नाम के इस शुभ योग की प्रतीक्षा ना केवल साधारण इन्सान करते है, बल्कि बड़े-बड़े तपस्वी भी गुरु पुष्य योग की प्रतीक्षा कई सालों तक करते हैं| इस योग में राशि अनुसार उपाय करने से आपकी कई परेशानियां हमेशा के लिए खत्म हो सकती है| आज हम प्रत्येक राशि के बारे में बताएगे की कैसे इस योग में उपाय कर वह अपनी किसी भी तरह की परेशानियो को सदा-सदा के लिए खत्म कर सकते हैं | ये शुभ योग कब आता हैं कब जाता हैं इसके बारे में किसी को  पता नही चलता हैं| कभी कभार तो ये योग बस कुछ मिनटों के लिए बनता हैं| अब जिनको इस योग की प्रतीक्षा हैं और उनके हाथ ऐसा सुनहरा मौका चला जाए तो उनके पास पछताने के अलावा कुछ नही बचता है|



तो आइए जानते हैं योग के बारे में…



कब बन रहा है गुरू पुष्य योग और क्यों खास बना ये योग

बता दे, इस बार बनने वाला योग करीबन 200 वर्षो के उपरांत बन रहा हैं| ध्यान रखिये 9 नवंबर सन 2017 को दोपहर के 1 बजकर 39 मिनट पर गुरु, पुष्य नक्षत्र में प्रवेश करने जा रहा हैं|


मेष राशि

मूल रूप से इस योग का मेष राशि के जातक लाभ उठा सकते हैं| दाम्पत्य जीवन में सुख भोगने की इच्छा रखने वाले मेष राशी के जातक एक साबुत हल्दी के सात टुकड़े कर उसको पूरी रात के लिए पानी में छोड़ दीजिये| सुबह इसको छानकर साफ़ पानी में मिला दीजिये| सूर्योदय के बाद उसी पानी से नहा लीजिये और बचे हल्दी के टुकडो को  किसी डिब्बे में बंद करके रख दीजिये|



वृषभ राशी

वृषभ राशि के जातको को इस योग में अपने छिपे हुए शत्रुओ को परस्त करने का मौका मिलता हैं| गुरु पुष्य योग लगने के उपरांत एक पिला धागा बंधी पीपल की छोटी सी लकड़ी को बाजू पर बाँध लीजिये|



मिथुन राशि

गुरु पुष्य योग में मिथुन राशि के जातक चली आ रही धन की समस्या से निजात पा सकते हैं| करना बस इतना हैं की गुरु पुष्य योग लगने पर घी का दीपक प्रज्वलित कीजिये और ओउम ह्रींग श्रीये नम: मन्त्र का जाप करते कीजिये|


कर्क राशि

कर्क राशि के जातको को लिए यह योग किसी वरदान से कम नही हैं| इस योग में वह चली आ रही मानसिक परेशानी को दूर कर सकते हैं| इसके लिए करना यह हैं की गुरु पुष्य योग लगने के बाद बरगद का दूध से सर के दोनों तरफ हलके हाथो से मसाज कीजिये| बरगद के दूध के बारे में बता दे जब बरगद की पत्ती को तोड़ते हैं तो उसमे से एक सफेद पदार्थ निकलता हैं वही बरगद का दूध कहलाता हैं|



सिंह राशि

गुरु पुष्य योग लगने के दौरान खीर बनाइए और उस खीर में  ॐ बृं बृहस्पतये नम: मन्त्र का जाप करते हुए धुर्वा लेकर मिलाइए| गुरु पुष्य योग में ऐसा जितनी बार भी कर सके कीजियेगा| इसके पश्चात रात्रि में इस खीर का सेवन कीजिये तद्पश्चात कुछ नही खाइए| गुरु पुष्य योग में इस प्रक्रिया को करने से ना केवल गृह क्लेश खत्म होगा बल्कि भाईयो चला आ रहा तनाव भी समाप्त हो जायेगा|



कन्या राशि

गुरु पुष्य योग के दौरान कन्या राशि के जातक किसी ईंट पर हल्दी से ॐ बृं बृहस्पतये नम: लिखे और मन्त्र लिखी इस ईंट क अपने पूजा स्थल पर रख दे| कानूनी बाधा से दूर रहेंगे|

तुला राशि

गुरू पुष्प योग के दौरान तुला राशि के जातक तांबे के सिक्के को ॐ बृं बृहस्पतये नम: मन्त्र का जाप करते हुए अपने पास रखले उसके बाद किसी भी माध्यम से अपने बॉस से बात कीजिये| आपकी नौकरी में प्रमोशन के चांस बन जायेगे|

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातक गुरु पुष्य योग के दौरान एक कटोरा सरसों का तेल और एक चुटकी हल्दी लेकर दोपहर के समय सुंदर काण्ड का पाठ करने के बाद कपूर जलाकर पुरे घर में धुप देने से गृह क्लेश दूर हो जायेगा|



धनु राशि

धनु राशि के जातको के साथ बहुत गलत हो रहा हैं क्योकि इनके अपने ही इनसे दुरी बना रहे हैं| एक पिला धागा सात बीत्ता नापकर ले, उसमे सात गांठे लगाकर मुट्ठी में बंद कर लीजिये, उसके उपरांत ॐ बृं बृहस्पतये नम: मन्त्र का जाप कीजिये और उस धागे को गले में पहन लीजिये, आप सबके प्रिय रहेगे|



मकर राशि

गुरु पुष्य योग के दौरान हल्दी में सात साबुत उड़द को रंगने के बाद उसको एक बर्तन में रख लीजिये और पुरे घर में छिडक दीजिये| इससे घर में एकता और सौहार्द बना रहेगा|



कुंभ राशि

गुरु पुष्य योग के दौरान कुम्भ राशि के जातक सात छुवारे लीजिये और उन पर हल्दी का तिलक कर दीजिये और फिर ॐ बृं बृहस्पतये नम: का जाप कीजिये तद्पश्चात उन छुवारो को खा लीजिये| कर्ज की स्थिति नही बनेगी और पुराना लिया कर्ज भी चुकता हो जायेगा|



मीन राशि

मन्त्र जाप करते हुए एक ईंट के छोटे टुकडो को शहद में भीगा लीजिए और इसके टुकड़े को ताबीज में भर कर गले में धारण कर लीजिये| पारिवारिक शांति  और वैवाहिक जीवन में प्रेम बना रहेगा|

More News & Articles

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here
consult

You will get Call back in next 5 minutes...

Name:

*

 

Email Id:

*

 

Contact no.:

*

 

Message:

 

 

Can ask any question