रत्न अभिमनित्रत कैसे करें

रत्न अभिमनित्रत कैसे करें

रत्न का रंग बदलना, तडक जाना अथवा अगूंठी से निकल कर गुम हो जाना , इस बात का स्पश्ट संकेत है कि धारण करने वाले पर कोर्इ विपति आने वाली थी। जिसे रत्न अपने ऊपर लेकर रहस्यमय ढ़ग से लुप्त हो गया। रत्नों का सीधा सम्बन्ध मानव जीवन से है। सूर्य की रषिमयां रत्नों पर पड़ती है। और रत्न धारण करने वाले के रक्त तथा षरीर पर रत्न से छन कर पड़ने वाली किरणों का प्रभाव पड़ता है।

जिस ग्रह रत्न को आप पहन रहे है उसी ग्रह की धातु में अगूंठी पहननी चाहिए तभी उसका लाभ आपको मील सकेगा। इसके अतिरिक्त प्राण प्रतिश्ठा भी परम आवष्यक है।

Talk to Astrologer

Talk to astrologer & get live remedies and accurate predictions.