Astro Yatra
India Free Classifieds
Consult Your Problem Helpline No.
8739999912, 9928933184


Can ask any question

नक्षत्र चक्र

नक्षत्र नाम चक्र

ध्यान देने की बात है। कि सस्कृत नाम ही आजकल के प्रचलित नाम है। वैदिक नामों से उनका सर्वथा प्रायष: साम्य है। वेंदाग ज्योतिश के नामों में नक्षत्रों को सांकेतिक भाशा में बताया गया है। कहीं पर नक्षत्र का आदि अक्षर, कहीं पर अन्त वाला अक्षर, कहीं नक्षत्र देंवताओं के नाम के अक्षर से सम्पूर्ण नाम को धोतित किया है।

अग्रेजी नामों में नक्षत्रमण्डल की योगतारा (प्रधानतारा) में मतभेद होने से कहीं कुछ अन्य नाम भी दिए गए है। अंग्रेजी नाम वास्तव में केवल जानकारी मात्र के लिए दिए हैं। वे नाम किसी भी तरह से सम्पूर्ण नक्षत्र मण्डल का प्रतिनिधित्व करते हैं।

।। नक्षत्र देवता चक्र ।।

नक्षत्र चक्राध्याय :

ज्योतिष ज्ञान

img

वास्तु और पंचतत्व

पूर्व और उत्तर दिषा का भाग ज्यादा खुला रहना...

Click here
img

भवन-निर्माण में वास्तु प्रयोंग

मुख्यदार का निर्माण करना हों, उस दिषा की भुजा का...

Click here
img

व्यावसायिक वास्तुषास्त्र

दुकान हेतु किसी भवन का चयन करना है, तो...

Click here
img

फलैट के लिए वास्तुनिर्देष

यदि मुख्यद्वार किसी अषुभ दिषा में खलता हों तो उसे...

Click here
img

ज्यातिश तन्त्र द्वारा वास्तुदोश निवारण

भवन नम्बर 9,18,27,36,45,108 हो या प्रवेंष द्वार पर...

Click here
img

राषि के अनुसार षुभ रंग का चयन

राषि के अनुसार षुभ रंग ...

Click here
img

पितृ दोष शांति के उपाय

पितरों को प्रसन्न करने के लिए आहुति सहित पिंड़ दान आदि कर्म ही ...

Click here
consult

You will get Call back in next 5 minutes...

Name:

*

 

Email Id:

*

 

Contact no.:

*

 

Message:

 

 

Can ask any question