remedies

Lal Kitab and Remedies

Lal Kitab and Remedies

 

Lal Kitab is gaining popularity in the world of astrology today. Described a simple and extremely accurate measure of its popularity is an important reason. Originally Lal Kitab Jyotish vidya is an independent and original book, which from time to time in different languages translation has been. The epics were composed by Pandit Joshi RUPCHAND. By various research experiences and his Lal Kitab in Hindi knowledge of astrology in disciplines such as palm (Palmistry), Marine Science (Samudrik Shastra), Janam Kundali combined to predict the future and planetary shooting etc. the measures were described. The Lal Kitab was originally written in Urdu.

The Red Book (Lal Kitab)’s biggest planetary Native easier to avoid side effects and correct behavior to adopt measures to support the message. Red Book of the measures they are so simple that no native can conveniently take recourse to their welfare. But remember that this measure (Lal Kitab remedies in Hindi) just suffering the effects of planetary control. Black dog breeding, feeding bread to the crows, like a tree, a few simple measures, such as grain or pretend coins in water are given in the Lal Kitab. However, before any measures related Jyotish have to be consulted. Red book on investing you daily horoscope, weekly, monthly or yearly horoscope can also learn in the Lal Kitab.

ऐसे शराब की आदत छुड़ाए…….

अगर आपके परिवार में भी किसी को शराब की लत होती है तो यह पुरे घर को तबाह कर देती है। ऐसे अनेक उदाहरण हमारे समाज में देखने को मिलते हैं।शराब से न सिर्फ व्यक्ति के शरीर में बल्कि सामाजिक स्तर में भी निरंतर कमी आती जाती है। शराब एक सामाजिक बुराई है। यहाँ पर कुछ ऐसे तांत्रिक उपाय बताए गए जो आपकी इस समस्या को दूर कर सकते है-

 शुक्ल पक्ष के पहले शनिवार को सुबह सवा मीटर काला कपड़ा तथा सवा मीटर नीला कपड़ा लेकर इन दोनों को एक-दूसरे के ऊपर रख दें। इस पर 800 ग्राम कच्चे कोयले, 800 ग्राम काली साबूत उड़द, 800 ग्राम जौ एवं काले तिल, 8 बड़ी कीलें तथा 8 सिक्के रखकर एक पोटली बांध लें।

 फिर जिस व्यक्ति की शराब छुड़वाना हो उसकी लंबाई से आठ गुना अधिक काला धागा लेकर एक जटा वाले नारियल पर लपेट दें। इस नारियल को काजल का तिलक लगाकर धूप-दीप अर्पित करके शराब पीने की आदत छुड़ाने का निवेदन करें। फिर यह सारी सामग्री किसी नदी में प्रवाहित कर दें। जब सामग्री दूर चली जाए तो घर वापस आ जाएं। इस दौरान पीछे मुड़कर न देखें। घर में प्रवेश करने से पहले हाथ-पैर धोएं। शाम को किसी पीपल के वृक्ष के नीचे जाकर तिल के तेल का दीपक लगाएं।

यही प्रक्रिया आने वाले बुधवार व शनिवार को फिर दोहराएं। इस टोटके के बारे में किसी को कुछ न बताएं। कुछ ही समय में आप देखेंगे कि जो व्यक्ति शराब का आदि था वह शराब छोड़ देगा।