10 जनवरी को साल का पहला सूतक, इस बार नहीं है ग्रहण का सूतक

10 जनवरी 2020 को साल का पहला चंद्रग्रहण लग रहा है। कुछ लोग यह सोचकर परेशान है कि चंद्रग्रहण पर सूतक लगेगा या नहीं लगेगा। लेकिन आपको बता दे कि चंद्रग्रहण 10 जनवरी को लगेगा वह उपछाया चंद्र ग्रहण होगा। अगर हम धर्मशास्त्र की बात करे तो इसे माद्य ग्रहण कहते है। जब यह ग्रहण होता है तब चन्द्रमा पर ग्रहण नहीं लगता है लेकिन इसका बिंब धुंधला हो जाता है।

कहा जा रहा है यह चंद्रग्रहण दूसरे चंद्र ग्रहण से काफी हद तक कमजोर होगा इसलिए ज्योतिषों का कहना है कि भारत में इस ग्रहण का असर ना के बराबर होगा। इस ग्रहण पर सूतक नई लगेंगे और मंदिरों के कपाट भी बंद नहीं होंगे। ज्योतिषी शास्त्र के हिसाब से कहा जा रहा है कि इस ग्रहण को ग्रहण की कोटि में नहीं रखा जाएगा।

chndra grhan

इसलिए कहा जा रहा है कि ग्रहण के समय धार्मिक कार्य करने की मनाही भी नहीं होगी। 10 जनवरी से माघ का मेला लग रहा है और इस दिन पौष पूर्णिमा भी है इसलिए इस दौरान श्रद्धालु गंगा जी में डुबकी लगाएगे। पौष पूर्णिमा के दिन बाद और ग्रहण के बाद में दान पुण्य किया जा सकता है। शास्त्रों के अनुसार इस महीने में दान पुण्य का करोड़ों गुना फल मिलता है।

ऐसी मान्यता है कि पौष माह की पूर्णिमा पर स्नान और दान से मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसलिए मोक्ष की कामना रखने वाले बहुत ही शुभ मानते है। क्योकि इसके बाद में माघ महीने की शुरुआत होती है। ऐसी मान्यता है कि यदि चंद्र ग्रहण के दौरान किसी भी सरोवर में स्नान किया जाता है तो सभी पाप धूल। एवं इसके अलावा गेहू, चावल और गुड़ जैसी चीजों का भी दान करना चाहिए।

For more information visit: https://www.astroyatra.com/

Like and Share our Facebook Page.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *