logo
India Free Classifieds

अंक ज्योतिष और आपका कार्य

हर व्यक्ति की ये जिज्ञासा होती है मै कौनसे कार्ये में या किस सेक्टर में कामयाब हो पाऊंगा,कोनसा कार्ये अपनाकर मै अपनी मंजिल तक पहुँच पाऊंगा,मुझे क्या करना चाहिये और क्या नहीं करना चाहिये,ये जिज्ञासा हर व्यक्ति की होती है,हम अंक ज्योतिष यानि अपनी मूलांक के आधार पर भी अपना कार्ये क्षेत्र अपना सकते है,मुलांक 1 से 9 तक हम आपको आपके मूलांक के आधार पर आपके कार्ये क्षेत्र के बारे में बता रहे है,

मूलांक 01 -- मूलांक एक वालो को दवाइयों के निर्माण के साथ निजी और सरकारी दोनों तरह के कामो में सफलता मिल सकती है,इसके अलावा मैनजमेंट,कन्सल्टन्सी,आढ़त फार्मेसी,उत्पादन और वितरण,कृषि से जुड़े कार्ये आदि करके सफल हो सकते है,

मूलांक 02 -- मूलांक दो वाले लोग मानसिक द्रष्टि से परिपक्व होते है,इसलिये इनको नौकरी रास नहीं आती,इसलिये इनके लिये -लेखन,रेडीमेड,गारमेंट्स,सभी तरह की जलीय वस्तु जैसे शीतल पेय,दूध, फोरेंसिक विज्ञानं,एजेंसी,खिलौनों का निर्माण,कांच से सम्बंधित कार्य,चप्पल जूता डेयरी से सम्बंधित कार्य,और उत्पात,ट्रांसपोर्ट ,फिल्म लेखन कान कार्य,ट्रेवलएजेंसी,दलाली,पत्रकारिता,मनोविज्ञान,रस वाली वस्तुओं का  व्यापर,

मूलांक 3 -- मूलांक तीन वाले लोग अपने कार्य में दुसरो की दखलंदाज़ी पसन्द नहीं करते,इसलिये ये लोग वही काम करना पसंद करते है जिसमे इनको पूरी स्वतंत्रता मिले,साहित्य,सर्जन,डिजाइनिंग,शिक्षण संस्थाओं का संचालन,इकनोमिक,फोरकास्टिंग,मैनेजमेंट कंसल्टेंसी,अदालती कार्य,पीले रंग की खाद्य वस्तुये जैसे -चना ,सरसो,हल्दी का व्यापार,स्वय सेवी संस्थाओं का संचालन,कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग,वकालत,राजनीती,न्यायिक कार्य,विज्ञापन डिजाइनिंग,दर्शन शास्त्र,शोध कार्य आदि में ये लोग सफल होते है,

मूलांक 4 --मूलांक चार वाले लोग अचानक लाभ होने वाले कार्य में दिलचस्पी दिखाते है,जैसे शेयरों का लेनदेन,ठेकेदारी,फिजियोथरेफी,हड्डीयो से बनने वाले पदार्थ,फर्नीचर का निर्माण और प्रदर्शनी,लकड़ी से बनी वस्तुये,फिल्मो का निर्माण,कपड़ो की सिलाई का काम,ज्योतिष या पुरातत्व आदि,

मूलांक 5 -- मूलांक पांच के लोग बहिर्मुखी स्वाभाव के'होने के कारण इस प्रकार के कार्यो में विशेष दक्षता रखते है जिनमे अंको का प्रयोग होता है,इनमे बैंक सम्बधी कार्य या नौकरी,सेल्स वर्क,ओषधियों का निर्माण,पुस्तको और स्टेशनरी की शॉप,अंक गणित,खुदरा व्यापार,जनरल स्टोर,पत्रकारिता,बीमा,दलाली,फीचर संपादन,इन्वेस्टमेंट सलाहकार और प्रकासन आदि

मूलांक 6 -- मूलांक छः वाले लोग सौंदर्य और कला प्रेमी होते है,ये स्वय कलाकार होते है,कला और सौंदर्य से जुड़े सभी काम इनको रास आते है,फोटोग्राफी,पेंटिंग,डेकोरेटिंग,आभूषणो का निर्माण,लेडीज़ गारमेंट्स का उत्पादन,मॉडलिंग।टीवी एकरिंग, सौंदर्य प्रशाधन सम्बधी काम,विदेशी मुद्रा का लेन देन,कम्प्यूटर में सॉफ्टवेयर सम्बंधित कार्य,पशुओं की खरीद फरोख्त,ब्यूटी पार्लर,ज्वेलरी डिजाइनिंग,इत्रों का वितरण,मेरिज ब्यूरो,घडी साज,मिठाइयों का निर्माण,होटल या रेस्टोरेंट का संचालन,रंगमंच और फिल्मो से सम्बंधित सभी कार्य,

मूलांक 7 --मूलांक सात के लोगो में दुसरो की बाते और घटनाये जानने की उत्सकता रहती है,इनको जासूसी,खोजी पत्रकारिता के अलावा फिल्मो का वितरण,पैकिंग मेटेरियल,रस्सी जैसी सभी लम्बी वस्तुओं का व्यापार,बारदाना,जुट की बनी वस्तुये,रबड़ और पलास्टिक से बानी वस्तुये आदि का कार्य करना सही रहता है ,

मूलांक 8 -- मूलांक आठ वाले लोग हमेशा उन कामो में रूचि रखते है जिसमे स्थायित्व हो जैसे मशीनरी,अधौगिक इकाइय,सभी तरह के टेक्नीकल वर्क,कबाड़ी का काम,अंग्रेजी भाषा का अध्य्यन,और शोध कार्य,कम्प्यूटर हार्डवेयर,खनिज तत्वों का खनन,कोयला,डीज़ल,गैस जैसे पदार्थो का कार्य आदि

मूलांक 9 --मूलांक नौ के लोगो की रूचि प्राय साहसिक कार्यो में ज्यादा होती है,इसलिये स्वाभाविक रूप से ये लोग उन कार्यो में ही सफल होंगे,जिसमे मानसिक क्षमता से ज्यादा शारीरिक क्षमता का कार्य ज्यादा हो,पुलिस,खेल,सेना,आदि के कामो में ये लोग ज्यादा रूचि लेते है,इसके अलावा रेस्टोरेंट,होटल,जमीन जायदाद की खरीद फरोख्त,प्रोपटी डीलिंग,पटाखो का निर्माण बेचान,ओषधि ,मेडिकल स्टोर,फिटनेस सेंटर,डॉक्टरी पेशा,हथियारों का व्यापार,वकालत आदि करए मूलांक नौ वाले लोगो के लिये अच्छा रहता है, 

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here

Can ask any question