logo
India Free Classifieds

घडी एवं बांसुरी की स्थिति घर को लाभदायक ऊर्जा से भर सकती है

समस्याएं तो जीवन  का  एक भाग है जो आती जाती रहती है । उनमे से कुछ समस्याएं तो घर में वास्तु दोष के कारण भी हो सकती है परन्तु इन वास्तु दोष को कुछ छोटे मोटे उपाय करके भी दूर किया जा सकता है । आपको इसके घर में तोड़ फोड़ करने की भी कोई आवश्यकता नहीं है बस कुछ उपाय करके आप इन समस्याओं से निजात पा सकते है ।

1. घर में यदि बंद घड़ियाँ है तो सबसे पहले उन्हें हटा दीजिये या उन्हें फिर से चालू कीजिये क्योंकि बंद घडी घर के लिए हानिकारक होती है एवं इनसे नकारात्मक ऊर्जा  का प्रवाह  होता है  जो घर के सदस्यों  के लिए ठीक नहीं है । घर  के पूर्वोत्तर कोने  में  तालाब या फव्वारा शुभ माना  जाता  है किन्तु इसके पानी के बहाव का मुख घर की तरफ होना चाइये न की घर के बहार की और ।

2. घर  में अगर आप बांसुरी रखते है तो वह अत्यंत ही शुभ मानी गयी है । कहा  जाता है की श्री कृष्णा की बांसुरी ख़ुशी, सम्मोहन एंड आकर्षण का प्रतीक है एवं इसको घर में रखने से सुख एवं समृद्धि आती है| घर के मुख्या द्वार पर बांसुरी को लटकना अत्यंत ही शुभ माना गया  है । ऐसा कहा जाता है की नकारात्मक ऊर्जा अगर बांसुरी  में प्रवेश करें तो वह भी सकारात्मक ऊर्जा में बदल जाती है । 

३. अगर आप घर को नकारात्मक ऊर्जा से मुक्त रखना  चाहते है तो घर के पुर्व दिशा में मिटटी के बर्तन में नमक भर   के रखें तथा हर २४ घंटे में उस नमक को बदले| अपने ऑफिस के पूर्व  दिशा में लकड़ी से बनी ड्रैगन की  मूर्ति रखने   से  शक्ति एवं ऊर्जा का संचार होता है । कमरे में पुरे फर्श को अगर  आप घेरते हुए कालीन बिछते है तो इससे लाभदायक ऊर्जा का प्रवाह रुक जाता है ।

4. घर के उत्तर पूर्व दिशा में अगर आप चमेली , तुलसी या मनीप्लांट का पौधा लगते है और वह गमले में लगा होना चाइये तो आप घर को सकारात्मक ऊर्जा का लाभ दे सकेंगे |   

More Vastu

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here

Can ask any question