logo
India Free Classifieds

दीपावली पर अचूक उपाय

दीपावली माँ लक्ष्मी का सबसे प्रिय पर्व है । लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्त करने के लिए इससे अच्छा कोई दूसरा शुभ दिन नहीं होता है , इस भौतिक युग में सुख ,समृद्धि और ऐश्वर्य बिना माँ लक्ष्मी की कृपा के संभव ही नहीं है हम यहाँ पर सौभाग्य, सफलता और मनवांछित फलों की प्राप्ति के लिए कुछ बहुत ही सरल उपाय बता रहे है जिनको करने के लिए दीपावली के पाँच दिन का समय सर्वोत्तम माना गया है: --- 
 
1- दीपावली के पांच पर्व होते हैं धनतेरस, चतुर्दशी, दीपावली, गोवर्धन पूजा, यम दितिया । इन पांचों दिन दीपक (चार छोटे और एक बड़ा) जरूर जलाएं। दीपक रखने से पहले उनका आसन बिछाएं फिर खील, चावल कि ऊपर दीपक रखें। इससे घर में धन की सदा आमद बनी रहेगी। 
 
2- दीपावली के दिन प्रातः पूजा के समय पीतल या तांबे के लोटे में शुद्ध जल भरकर उसमें थोड़ी हल्दी घोल कर उसे पूजा में रखे , पूजा के उपरांत इस जल को पीले फूल से पूरे घर में थोड़ा थोड़ा छिड़क दें और बचा हुआ जल तुलसी या केले के पौधे में चड़ा दें अब इस क्रिया को नित्य पूजा के बाद किया करें घर पर माँ लक्ष्मी की सदैव कृपा बनी रहेगी । 
 
3- दीपावली पूजन के समय यदि आप अपनी पत्नी को कोई लाल वस्त्र उपहार में देंगे तो निश्चित ही आप पर माँ लक्ष्मी की स्थायी कृपा सदैव बनी रहेगी, कोशिश करें की आप की पत्नी को आपके द्वारा दिए गए उपहार का पहले से पता न हो तो बहुत ही अच्छा होगा । लेकिन अपनी माँ और बहन को भी उपहार अवश्य ही दें । 
 
4-दीपावली के दिन रात्रि में घर के प्रत्येक कमरे और मुख्य द्वार में गेंहू की ढेरी बना कर उसके ऊपर शुद्ध घी का दीपक प्रज्ज्वलित करना चाहिए जो रात भर जलता रहे .इससे रात्रि में माँ लक्ष्मी का घर में प्रवेश होता है , यह उपाय बहुत ही कारगर माना जाता है ।
 
5- व्यापार में व्यापार लक्ष्मी को प्रसन्न करके धन लाभ के लिए यह एक सिद्ध प्रयोग है। दीपावली की रात्रि को कपूर जला कर उसमे शुद्ध रोली को डाल दें , फिर जो राख प्राप्त होगी उसकी पुडिया बनाकर किसी लाल रुमाल याकपडे में बांधकर उसे तिजोरी/धन स्थान में रखने से व्यापर में आशातीत सफलता मिलती है ,आय के नवीन स्रोत्र खुल जाते है । इस पर रोज धूप/अगरबत्ती दिखलाते हुए माँ लक्ष्मी से प्रार्थना जरुर करें । 
 
6- दीपावली को संध्या के समय हाथ में एक सुपारी और ताम्बें का सिक्का लेकर पीपल के पेड़ पर जाएँ उनको प्रणाम करके अपनी इच्छा बोलिए फिर सुपारी और ताम्बें का सिक्का अर्पित करके शीश निवा कर घर आ जाएँ । अगले दिन सुबह उसी पीपल का पत्ता लाकर उसे धोकर तिलक लगाकर अपनी गद्दी के नीचे रखेंगे तो व्यापर में किसी भी किस्म की बाधाएं नहीं आएँगी । 
 
7- दीपावली के दिन सायं काल और उसके बाद हर बुधवार को सात बेसन के लड्डू लायें और उन्हें गृह स्वामी के ऊपर से सात बार उसारने (घुमाने) के बाद उन्हें घर से बाहर रख दें , दुसरे दिन उन लड्डुओं को पीली गाय को खिला दें तो गृह स्वामी की आय में लगातार वृद्धि होने लगती है । 
 
8- दीपावली के दिन किसी भी लक्ष्मी मंदिर में माँ को सुगन्धित धूप अगरबत्ती अर्पित कर दें , ( उन पैकेट में से कुछ धूप / अगरबत्ती वहीँ पर जला कर माँ को प्रणाम करें )। 
 
9- दीपावली के दिन रात्रि को काले तिल परिवार के सभी सदस्यों के सर से सात बार उसार कर उसे घर के उत्तर दिशा में फेंक दें तो धन हानि बंद हो जाती है । 
 
10- दीपावली की रात्रि में माँ लक्ष्मी पूजन के पश्चात घर के सभी कमरों घर के कोने कोने में शंख और डमरुं बजाना चाहिए ऐसा करने से अलक्ष्मी/दरिद्रता घर से बाहर निकलती है और माँ लक्ष्मी का घर में प्रवेश होता है । 
 
11- दीपावली के दिन घर के मुख्य द्वार पर कुमकुम से स्वस्तिक बनायें और बासमती चावल की ढेरी बनाकर उस पर एक सुपारी में कलावा बांधकर रख दें , यह धन प्राप्ति का अचूक प्रयोग है । 
 
12- दीपावली के दिन अमावश्या होती है अतः अपने पूर्वजो को अवश्य याद करें ,प्रातः उनका तर्पण करें और किसी वृद्ध और गरीब व्यक्ति को भोजन कराएँ या यथा शक्ति दान दें , ऐसा करने से उस व्यक्ति को अपने पित्तरों का आशीर्वाद मिलता है और घर में सुख शांति बनी रहती है । 
 
13- यदि बहुत प्रयास करने पर भी किसी व्यक्ति को मकान का सुख नहीं प्राप्त हो रहा है , तो वह दीपावली को किसी भूखे को भगवन समझ कर उसे प्रेम पूर्वक भोजन कराएँ और थोडा गुड खरीद कर गाय को खिला दें । उसके बाद प्रत्येक शुक्रवार को नियम से भूखे व्यक्ति को भोजन और रविवार को गाय को गुड खिलाएं , १ वर्ष तक ऐसा करें आपकी वर्षों की अभिलाषा कैसे पूरी होगी यह आपको भी पता नहीं चलेगा । 
 
14- यदि आपको यह अनुभव होता है की आपके व्यापर / नौकरी में उन्नति नहीं हो रही है तो दीपावली की रात्रि में कच्चा सूत लेकर उसे शुद्ध केसर से रंगकर भाई दूज के दिन माँ लक्ष्मी का स्मरण करते हुए अपने व्यापारिक स्थल में बांध दें , इस प्रयोग से व्यापर में निश्चित ही उन्नति होती है । नौकरी वाले इसे अपनी टेबिल / अलमारी / ड्रार कहीं भी बांध सकते है । 
 
15- दीपावली को सुबह समय अगर गन्ने की जड़ को नमस्कार करके घर में लाये और रात्रि में लक्ष्मी पूजन के समय उसकी भी पूजा करें , तो ऐसा करने से घर में अटूट लक्ष्मी का वास होता है । 
 
16- दीपावली की रात्रि में व्यापारिक स्थल में पूजा करने जाते समय शुद्ध केसर मिली मीठी दही खाकर घर से प्रस्थान करें और उसके बाद माँ लक्ष्मी का पूजन करें तो उस व्यापार में बरकत रहती है । 
 
17- दीपावली के दिन में पाँच पीपल के पत्तों को तोड़कर घर में ले आयें , रात्रि में लक्ष्मी पूजन के बाद उन पत्तों पर पनीर , दूध से बना कोई भी मिष्टान रख कर उसे पीपल के पेड़ को अर्पित कर दें और अपनी इच्छा बोल दें , कार्यों में सफलता मिलने लगेगी । 
 
18- दीपावली के दिन माँ लक्ष्मी की पूजा के समय माँ को सुगन्धित इत्र और केसर जरुर अर्पित करें , अगले दिन से पूरे वर्ष इस केसर का तिलक और इत्र लगाकर काम पर जाने से आर्थिक सफलता मिलती है । 
 
19- यदि आप गृह कलेश से पीडि़त है आपके घर की सुख शांति दूर हो गयी है तो आप दीपावली के दिन माँ लक्ष्मी के पूजन के बाद २ गोमती चक्र लेकर एक डिब्बी में पहले सिंदूर रखकर उस पर उनको रख दें फिर उस डिब्बी को बंद करके घर के किसी एकांत स्थान में रख दें । इसे घर के किसी भी सदस्य को नहीं बताएं , घर में शीघ्र ही शांति हो जाएगी । 
 
20- दिवाली के दिन लक्ष्मी पूजन के समय २ अकीक लक्ष्मी जी के चरणों में रख दें . पूजन के पश्चात अर्ध रात्रि को इन दोनों को घर के किसी कोने में भूमि में खोद कर गाड दें बिगड़े काम बनते नजर आयेगें । 
 
21- रात्रि की समाप्ति से पूर्व ब्रह्म मुहूर्त में घर की स्त्रियाँ घर के कोने कोने में कुछ खट खट करते हुए यह कहे की हे अलक्ष्मी अब आप इस घर से चली जाओ क्योंकि यहाँ पर माँ लक्ष्मी का निवास हो गया है ऐसा करने से उस घर में दिनों दिन लक्ष्मी का भंडार बढ़ता है । 
 
22- दीपावली के दिन विष्णु सहस्त्रनाम , लक्ष्मी सूक्त का पाठ अवश्य करें और अगर हो सके तो इनके कैसेट अवश्य चलायें । 
 
23- लक्ष्मी पूजन के समय ११ कौड़ियों को गंगाजल से धोकर लक्ष्मी जी को अर्पण करें और उन पर हल्दी कुमकुम लगायें। अगले दिन इन्हें लाल कपडे में बंधकर तिजोरी में रख दें इससे आय में निश्चित वृद्धि होती है । 
 
24- दीवाली के दिन एक नयी झाड़ू खरीद लायें पूजा से पहले उससे थोड़ी सी सफाई करें फिर उसे एक तरफ रख दें अगले दिन से उसका प्रयोग करें इससे दरिद्रता दूर भागेगी ओर लक्ष्मी का आगमन होगा । 
 
25- पूजा में माँ लक्ष्मी के चरणों में एक लाल तथा एक सफेद हकिक पत्थर रखें दोनों के योग से चन्द्र मंगल लक्ष्मी योग बनता है , पूजा के बाद इन्हें अपने पर्स में रख लें । 
 
26- दीपावली पर सांयकाल पीपल के पेड़ के नीचे तेल का दीपक जलाकर पीपल को प्रणाम करके अपनी मनोकामना कहे, माँ लक्ष्मी का भी ध्यान करें फिर लौट जाएँ और पीछे मुड़कर ना देखे।आपको अवश्य ही माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होगा।यह प्रयोग बिल्कुल चुपचाप करें । 
 
27- भाई दूज के दिन एक मुट्ठी साबुत बासमती चावल बहते हुए जल में श्री माँ लक्ष्मी का स्मरण करते हुए छोड़ना चाहिए , इससे धन धान्य में वृद्धि होती है । यह प्रयोग हर पुरुष को अवश्य ही करना चाहिए । 
 
28- यदि आप गृह क्लेश से पीड़ित है घर में सुख शांति दूर हो गयी है तो दीवाली के दिन माँ लक्ष्मी के पूजन के बाद दो गोमती चक्र लेकर एक डिब्बी में पहले सिंदूर रखकर उसके ऊपर इसे रख लें फिर इसे घर के किसी एकांत कोने में रख दे इसे किसी को भी ना बताये घर में क्लेश समाप्त हो जायेगा । 
 
29.दीपावली की रात लक्ष्मी पूजन के साथ-साथ काली हल्दी का भी पूजन करें फिर यह काली हल्दी अपने धन स्थान / तिजोरी में रखें। इससे धन लाभ होगा। 
 
30.दीपावली की रात्रि में हात्थाजोड़ी को सिंदूर में भरकर किसी डिबिया / बर्तन में रखकर तिजोरी में रखने से धन में वृद्धि होती है। 
 
31.दीपावली के दिन शाम को दीवाली के पूजन से पहले आप किसी भी गरीब सुहागिन स्त्री को अपनी पत्नी के द्वारा सुहाग सामग्री अवश्य दिलवाएं , सामग्री में इत्र अवश्य ही हो । इससे माँ लक्ष्मी की कृपा से उस घर में पूरे वर्ष धन की कोई भी कमी नहीं होती है । 
 
32.माता लक्ष्मी को कौड़ी बहुत है प्रिय है । माँ लक्ष्मी की स्थाई कृपा प्राप्त करने के लिए दीपावली के दिन कौड़ियों का सुन्दर वंदनवार अपने घर के मुख्य द्वार के ऊपर अवश्य ही लगाएं और समय समय पर इसे साफ भी करते रहे । इस पर धूल, गर्दा बिलकुल भी ना जमने दें । इससे उस घर पर माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है । 
 
33.दीपावली की रात्रि में 12 बजे अपने दाहिने हाथ में काली राई लेकर अपने घर की छत पर तीन चक्कर उलटे काटे, फिर दसो दिशाओं में हाथ की राई के दाने "ऊँ हीं ऋणमोचने स्वाहा"॥ मन्त्र का जप करते हुए फेंकते जाय, इस उपाय से धन हानि बंद होती है ,ऋण के उतरने के योग प्रबल होते है। यह बहुत ही अमोघ प्रयोग है इसे किसी भी अमावस्या को किया जा सकता है लेकिन दीवाली की रात में इसे करने से शीघ्र ही फल मिलता है। 
 
34.दीपावली के दिन घर का मुखिया पूजा के बाद घर के सभी सदस्यों को कुछ न कुछ उपहार अवश्य दे । 
 
यह कुछ बहुत ही आसान से उपाय बताये गए है इनमे से जो जो संभव जो उनको पूर्ण श्रद्धा , विश्वास , और सच्चे मन से करने पर आपको जीवन में अवश्य स्थायी सुख संपत्ति की प्राप्ति होगी ।

More एक नज़र

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here

Can ask any question