logo
India Free Classifieds

राशिफल 2018

राशिफल 2018
             
नववर्ष आने के समय हम सबको उत्सुकता रहती है कि कैसा रहेगा ये आने वाला नया साल,
आर्थिक सिथति कैसी रहेगी, जॉब, बिजनेस कैसा रहेगा, पारिवारिक जीवन कैसा रहेगा, सामाजिक हैसियत कैसी रहेगी, क्या विवाह योग्य जातको का इस वर्ष विवाह होगा ?, किन राशई ?,  इस वर्ष कोई नुकसान?, दुर्घटना?, बीमारी तो नही हैं ?, इस प्रकार के अनेक अच्छे व बुरे सवाल हम सबके मन मे होते है,  स्टोन वो लोग पहने जो पूजा नही करते चालीसा की जगह अचूक उपाय सुन्दर कांड ओर एस्ट पूजा गुरुदेब पुजनीय गुरुबार पूर्णिमा एकादसी मंगल शनी  पीपल पूजा दान करना पड़ता हैं गरीब मजदूर की बददुआ से बचे शिव पूजन उत्तत्म्म आदि
आइये मित्रो दोस्तो मै आपको ज्योतिष के माध्यम से बताने  समझनेकी कोशिश करता हूँ कि क्या कहती है आपको ग्रहकी चाल, क्या है वर्ष 2018 में आपका राशिफल ।। गोचर में क्या चल रहा है कुण्डली भजे ससुल्क जबाब ले,काल शर्प शार्पित नांगिन पूजा पित्र पूजा सत्यदेब पूजन  करे                           
 
 
मेष
             
 
आपकी आर्थिक स्थिति इस वर्ष पहले से बेहतर होगी, कार्यक्षेत्र में सकारात्मक बदलाव होंगें, कुछ लोग अपनी नॉकरी, बिज़नेस आदि भी बदल सकते हैं। जमीन जायदाद में निवेश कर सकते हैं, घर का रेनोवेशन करवा सकते हैं, निवास स्थान में बदलाव हो सकता हैं, सामाजिक पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी, उच्च पद प्रतिष्ठित लोगो से मेल मुलाकात होगी, स्थायी संबंध बनेंगे, आप थोड़े से अतिरिक्त्त प्रयास से नाम, प्रसिद्वि व धन प्राप्त कर सकते हैं।लंबी दूरी की यात्रा के योग हैं कुछ लोग काम और धन के लिए,कुछ लोग मनोरंजन के लिए तथा कुछ लोग आध्यात्मिक मानसिक शांति के लिये लंबा प्रवास करेंगें, लिखने-पढ़ने में तथा अपना ज्ञान कौशल विकसित करने में रूचि रहेगी, धर्म अध्यात्म की तरफ आपका आस्था विश्वास बढ़ेगा। धार्मिक स्थल की यात्रा का योग हैं।
जीवनसाथी के साथ मधुर संबंध रहेगें।
अविवाहित जातको के विवाह होने के प्रबल योग है।
पिताजी तथा घर में बड़े बुजुर्गों के स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखे।
माताजी भावनात्मक रूप से उपेक्षित महसूस करेंगी, आपको माताजी के साथ समय व्यतीत करना चाहिए।
आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा, बस खानपान में सावधानी रखें, सुबह की सैर,कसरत इत्यादि करे, वजन बढ़ने के योग है।
                               उपाय
                        
1)-हनुमान चालिसा का नियमित रूप से पाठ करें।
2)-सोमवार शिवलिंग का जलाभिषेक करें।
3)-सूर्यदेव को जल अर्पित करें।
4)- कुंडली में मंगल व गुरु की सिथति के अनुसार 
      मूंगा व पुखराज धारण करें।
 
                                 वृषभ
                         
आपके लिए ये वर्ष थोड़ा संघर्षपूर्ण रहने वाला हैं, आपको कड़ी मेहनत व आत्मविश्वास की जरूरत होगी, कार्यक्षेत्र में बदलाव होंगें जो आपको बहुत अधिक पसंद नही आएंगे, अपने वरिष्ठजनो तथा अधिकारी आपके संबंधित तनावपूर्ण हो सकते हैं, वैचारिक मतभेद हो सकते हैं, आपकी कार्यशैली, साहस, क्षमता में वृद्धि होगी, नाम व प्रसिद्वि में वृद्धि होगी।
क़ानूनी विवाद आपके हल होंगे, 
कानून और स्वास्थ्य से जुड़े कार्यक्षेत्र वाले जातकों को विशेष लाभ होगा। 
बेरोजगार जातको को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।
निवेश बहुत ही सोच विचार कर करें, अन्यथा आपका पैसा और संबंध खराब हो सकते है, 
परिवार के सदस्यों के बीच मतभेद हो सकते है, धैर्य व संयम की आवश्यकता है, प्रेमसंबंधों में मनमुटाव हो सकता है।
आवेश में आकर कोई निर्णय न लें।
स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना होगा। 
वर्ष के दूसरे भाग से आपको भाग्य का भरपूर सहयोग मिलेगा। आप ऊर्जावान होंगे, कार्यक्षमता में वृद्धि होगी,जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होगा, साथ भाई- बहनों से मतभेद उत्पन्न हो सकते हैं, प्रोपर्टी में निवेश कर सकते है, आपकी तरक्की होगी, धन का आगमन होगा, 
अविवाहित जातको के विवाह के योग है।
 
                             उपाय
                      
1)-नियमित रूप से दुर्गा चालीसा का पाठ करें।
2)-प्रत्येक शनिवार को शनिमंदिर दर्शन करें।
3)-महिलाओं व बच्चों को वस्त्र का दान करें।
4)-लोहे का छल्ला धारण करें।
        
 
                                 मिथुन
                        
कार्यक्षेत्र के लिहाज से यह साल आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा, कला, साहित्य, लेखन, खेल के क्षेत्र के लोगो को विशेष अवसर प्राप्त होंगे अपनी प्रतिभा दिखाने के, आप अपने विरोधियों, प्रतिद्वंद्वीयो पर हावी रहेंगें, आय के नये साधन बनेगें, आप ऊर्जावान रहेगें क्रोध और आवेश से आपको बचना होगा, परिजनों से मतभेद के योग है, रक्त विकार हो सकता हैं, सवास्थ्य के प्रति सचेत रहे।
परिवार से दूर जाने के योग है, यह मनमुटाव के कारण भी सकता हैं, और काम ही वजह से भी।
बिज़नेस पार्टनर से मतभेद हो सकते है, आप चालाकी या चालबाजी की कोशिश न करें, लेने के देने पड़ सकते है।
गलतफहमी को मिल बैठ कर दूर करे व्यापार की हो या परिवार की।
व्यर्थ का खर्चा होगा, निवेश सावधानी से सोच विचार कर करें।
इस वर्ष आपको व्यर्थ के वाद विवाद से दूर रहना होगा, वरना कोर्ट कचहरी के तक विवाद जा सकता है।
आपको आपकी मेहनत का लाभ मिलेगा, नाम व प्रसिद्वि प्राप्त होगी। प्रोपर्टी में निवेश कर सकते है।
परेशानी आएंगी विरोधी परेशान करेंगे किन्तु आप अपनी कड़ी मेहनत, लगन, और धैर्य से विजय प्राप्त कर लेंगे। 
 
                            उपाय
                   
1)-  तुलसी के पौधे को सींचे, तुलसी के पास घी का दीपक        जलाएं।
2)- जरूरतमंद विद्यार्थियों को शिक्षण सामग्री वितरित करें।
3)-भगवान विष्णु की पूजा करें।
4)-कुंडली मे बुध की सिथति जानकर पन्ना धारण करे
                 
 
     
    
 
                                  कर्क
                   
इस वर्ष आप विदेश संबधी कारोबार,नॉकरी में लाभ प्राप्त करेंगे, साझेदारी में लाभ होगा, नए कॉन्ट्रेक्ट, नए प्रोजेक्ट पर काम प्राप्त होगा,  शिक्षा,प्रोपर्टी, मेडिकल, रेस्टोरेंट जैसे कार्य करने वाले लोगो को विशेष लाभ होगा, 
निवेश सोच विचार कर करें, जोखिम लेने से बचें।
इस वर्ष आपके रुके कार्य बनेगें, साथ ही अटका हुआ धन प्राप्त होगा,
सामाजिक, राजनीतिक क्षेत्र के लोगो को वर्ष के अंत मे पद प्रतिष्ठा की प्राप्त होगी।
जीवनसाथी से वाद विवाद के योग हैं, आपको धैर्य व संयम से कम लेना होगा, छोटी छोटी बहस भी बढे विवाद का रूप ले सकती है।
माता पिता के साथ संबंधों में मधुरता रहेगी।
भाई बहन से वैचारिक मतभेद हो सकते है।
स्थान परिवर्तन के योग है।
घर की रेनोवेशन पर ख़र्च के योग हैं।
आपके प्रतिद्वंद्वी विरोधी शांत और कमजोर रहेंगें।
संतान की और से मन प्रसन्न रहेगा।
वाहन सावधानी से चलाये।
इस वर्ष आप नया ज्ञान कौशल प्राप्त करेंगे। 
                            उपाय
                  
1)-हनुमानजी की नियमित रूप से पूजापाठ करें।
2)-दुर्गा चालीसा का पाठ नियमित रूप से करें।
3)-कुत्ते की सेवा करें।
4)-पीपल के पेड़ को सींचे।
 
                                सिंह
                     
कार्यक्षेत्र के लिए यह वर्ष उत्तम रहेगा, आय के नए साधन विकसित होंगें, ऊर्जावान रहेंगे, विदेशों यात्रा के योग हैं। नए लोगों से मित्रता होगी, भागदौड़ मेहनत की अधिकता रहेगी।
आपको थकान, तनाव अनिद्रा की समस्या हो सकती है।
भाई बहनों से रिश्ते में मधुरता रहेगी, जीवनसाथी से सम्बंध मधुर रहेंगे। प्रेम संबंध में तनाव का हो सकता है।माता के स्वास्थ्य का खयाल रखें।
ध्यान, अध्यात्म योग की तरफ आपका रुझान बढ़ेगा।
जमीन जायदाद संबंधित समस्या का समाधान होगा।
आप प्रोपर्टी में निवेश भी कर सकते हैं।
अविवाहित जातको के विवाह के योग हैं।
पार्टनरशिप में लाभ होगा। 
कारोबार का विस्तार होगा। जिसके लिए मेहनत बहुत होगी।
संतान के सवास्थ्य या शिक्षा को लेकर आपको चिंता हो सकती है, सचेत रहें।
 
                              उपाय
                     
1)-हनुमान चालीसा का नियमित रूप से पाठ करें।
2)-तुलसी को नियमित रूप से सींचे।
3)-महीने में एक दिन धार्मिक स्थल पर सेवा करें।
4)- कुंडली मे गुरु की सिथति अनुसार पुखराज धारण करें।
 
                                 कन्या
                        
कारोबार की द्र्ष्टि से यह एक बेहतर वर्ष साबित होगा आपके लिए। आय में वृद्धि होंगी, आपके संग आपका परिवार भी तरक्की करेगा। आपकी मेहनत आपकी कार्यशैली की प्रशंसा होगी। पदौन्नति के भी योग है।
इस वर्ष आप प्रोपर्टी भी खरीद सकते है।
उधार लेने से बचें, जो धन आपके पास उसको ही निवेश करें।
कारोबार में अतिरिक्त जोखिम नुकसान भी दे सकता है।
व्यापार, नॉकरी के साथ साथ अपनी सेहत का भी ख्याल रखे , सवास्थ्य विकार हो सकता हैं, सवास्थ्य की अनदेखी न करें। 
साथ ही अपने पारिवारिक जीवन पर भी ध्यान दें।
परिजनों वादविवाद होने के योग है। 
आपको संतुलन बिठाना होगा, घरपरिवार और कार्यक्षेत्र में।
प्रेमसंबंधों में भी तनाव पैदा हो सकता है।
आपको मानसिक रूप से मजबूत रहना होगा।
धीरे धीरे संबधों में सुधार होगा।
 
                                उपाय
                       
1) -गणेश जी पुजा करें।
2)-शनिवार माँ काली के दर्शन करें।
3)-वृद्ध व दिव्यांगों की सेवा सहायता करें।
4)-योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखा कर पन्ना धारण करें।
 
                  
 
                 
                                 तुला
                       
आपके लिए यह वर्ष कार्यक्षेत्र की द्र्ष्टि से सकारात्मक है, अपने सपनो को पूरा करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। 
आपके पराक्रम व आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी।
साथ ही क्रोध व घमंड भी बढ़ सकता है, सावधान रहें।
साथ ही आपको कार्यस्थल की पोलटिक्स से दूर रहना होगा, अपने काम से काम रखें, आपके शत्रु आपके विरोधी आपसे उलझने की भरपूर कोशिश करेंगे, आपको व्यर्थ के बाद विवाद से दूर रहना होगा, वरना आपका काम और नाम दोनो ही खराब हो सकते हैं।
आथिर्क सिथति आपकी पहले से बेहतर होगी।
ख़र्च में वृद्धि होगी, कारोबार का विस्तार होगा।
घर के रखरखाव, रेनोवेशन पर खर्च होगा।
घरपरिवार में मांगलिक कार्य होंगें, जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा, रिश्ते में मधुरता बढ़ेगी।
माता के स्वास्थ्य का ख्याल रखें।
संतान की चाह रखने वाले जातकों को संतान प्राप्त होगी।
विवाह योग्य अविवाहित जातको का विवाह संपन्न होगा।
दूर स्थान की यात्रा के योग हैं।
विदेशी यात्रा के योग है।
 
                              उपाय
                    
1)-कुलदेवी अथवा माँ दुर्गा की पुजा करें।
2)-लक्ष्मी-नारायण की पूजा करें।
3)-कुते को प्रतिदिन भोजन दे।
4)-योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखा कर नीलम धारण करें।
 
                              वृश्चिकः
                      
आपके वर्ष 2018 बेहतर रहेगा, कार्यक्षेत्र में विस्तार होगा, रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे, आय के नए साधन विकसित होंगें।
इस वर्ष आप भाग्य से ज्यादा अपनी मेहनत और कौशल पर विश्वास कर आगे बढ़ेगे,
आपके पराक्रम, साहस, आत्मविश्वास में वृद्धि होगी।
आपको दो चीजों का विशेषतौर पर ध्यान रखना होगा, एक तो आपकी सेहत किसी भी छोटी बीमारी और चोट को अनदेखा न करें और दूसरा अपने गुस्से पर काबू रखना होगा।
वाणी पर संयम रखना होगा।
आपके क्रोध के कारण आपके पारिवारिक और सामाजिक संबंध खराब होने का भय है।
हालांकि आप अपने शत्रुओं, विरोधियों को दबा कर रखने में कामयाब होंगे।
धार्मिक स्थलों की यात्रा के योग है।
धर्म, अध्यात्म में आस्था विश्वास और रुचि बढ़ेगी।
जीवनसाथी से संबंध मधुर रहेंगे।
भाई बहनों का सहयोग प्राप्त होगा।
माता पिता के स्वास्थ्य का खयाल रखना होगा, विशेषकर माता के स्वास्थ्य का।
प्रेम संबधों में उतार चढ़ाव रहेगा। 
वाहन चलाने में और यात्रा करने में सावधनी बरतें।
 
                             उपाय
                    
1)-सूर्यदेव को तांबे के लोटे से जल अर्पित करें।
2)-जरूरत को भोजन करवाए।
3)-हनुमानजी की नियमित रूप से पूजा करें।
4)- सोमवार भगवान शिव जी का जलाभिषेक करें।
 
                                धनु
                     
वर्ष 2018 आपके लिए आर्थिक रूप से बहुत बेहतर साबित होगा, आय के नए साधन बनेंगे, निवेश का लाभ होगा, प्रभावशाली लोगो से आपके संबंध स्थापित होंगे।
पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी, साथ ही आपके अंदर ईगो भी बाद जाएगी जिसका आपको नुकसान आपके वाणी पर संयम न रखने से हो सकता है।
साझेदार से रिश्ते खराब हो सकते हैं, आपको धैर्य व संयम से आगे बढ़ना होगा।
आपकी कार्यशैली की प्रशंसा होगी, आर्थिक सामाजिक क्षेत्र में आप उन्नति करेंगे।
अगर आप घर या गाड़ी लेने का प्लान कर रहे है तो आप ले सकते है।
आपको परिजनों से संबंध खराब हो सकते है, 
साथ जितना हो सकें किसी भी प्रकार के वाद विवाद से दूर रहे, वरना कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने पड़ सकते है।
जीवनसाथी से आपके संबंध मधुर रहेंगें।
प्रेम संबंधों में मधुरता बढ़ेगी, 
आपको अपनी सेहत का भी ख्याल रखना होगा। सब संभालने के लिए खुद को अनदेखा न करें।
 
                           उपाय
                
1)-आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ करें।
2)-हनुमान चालिसा का पाठ करें।
3)-गाय को हरा चारा खिलाये।
4)-योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखा कर माणिक व पुखराज धारण करें।
 
                
जीवन में किसी भी प्रकार की समस्या के  ज्योतिषीय     समाधान  व मार्गदर्शन के लिए परामर्श करें।।
                           
                    
 
                            
                                           धनु
                                  
वर्ष 2018 आपके लिए आर्थिक रूप से बहुत बेहतर साबित होगा, आय के नए साधन बनेंगे, निवेश का लाभ होगा, प्रभावशाली लोगो से आपके संबंध स्थापित होंगे।
पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी, साथ ही आपके अंदर ईगो भी बाद जाएगी जिसका आपको नुकसान आपके वाणी पर संयम न रखने से हो सकता है।
साझेदार से रिश्ते खराब हो सकते हैं, आपको धैर्य व संयम से आगे बढ़ना होगा।
आपकी कार्यशैली की प्रशंसा होगी, आर्थिक सामाजिक क्षेत्र में आप उन्नति करेंगे।
अगर आप घर या गाड़ी लेने का प्लान कर रहे है तो आप ले सकते है।
आपको परिजनों से संबंध खराब हो सकते है, 
साथ जितना हो सकें किसी भी प्रकार के वाद विवाद से दूर रहे, वरना कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने पड़ सकते है।
जीवनसाथी से आपके संबंध मधुर रहेंगें।
प्रेम संबंधों में मधुरता बढ़ेगी, 
आपको अपनी सेहत का भी ख्याल रखना होगा। सब संभालने के लिए खुद को अनदेखा न करें।
 
                           उपाय
                 
1)-आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ करें।
2)-हनुमान चालिसा का पाठ करें।
3)-गाय को हरा चारा खिलाये।
4)-योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखा कर माणिक व पुखराज धारण करें।
 
              
                                          मकर
                    
वर्ष 2018 में आप आर्थिक रूप से मजबूत होंगे, नए प्रोजेक्ट पर काम करेंगे, कार्यक्षेत्र में सकारात्मक बदलाव आपके पक्ष में होंगे, आपकी कार्यशैली की प्रशंसा होगी, आपकी उन्नति के योग है।
आप नया ज्ञान कौशल नया अनुभव प्राप्त करेंगे।
निवेश में सावधानी बरतें, बहुत सोच विचार कर निवेश करें, जोखिम के काम मे निवेश न करें। धन का नुकसान हो सकता है। साथ ही व्यर्थ के खर्चो में भी कटौती करें तो आपके लिए अच्छा है।
निजी संबधो में मन मुटाव होने की संभावना है, अपनी वाणी पर संयम रखें। बात का बतंगड़ बन सकता है।
घर परिवार में मांगलिक कार्य होने के योग है।
आपको इस वर्ष मजेदार यादगार यात्रा के अवसर प्राप्त होंगे।
पैतृक संपत्ति का कोई विवाद है तो इस वर्ष सुलझ जाएगा।
सवास्थ्य का खयाल रखें पैरो अथवा सिर में समस्या हो सकती हैं।
अपनी अहमियत का खयाल रखें, किसी के लिए जरूरत से ज्यादा न करें, वरना आप खुद को ठगा हुआ महसूस करेंगे।
कोई आपका लाभ उठाने की कोशिश कर सकता है।
 
                                उपाय
                      
1)-शनि चालिसा का पाठ करें।
2)-धार्मिक कार्यक्रम में सेवा करें।
3)-बुजुर्गों की सेवा सहायता करें।
4)- योग्य ज्योतिषी को कुंडली को दिखा कर पन्ना धारण करें, अथवा बुध ग्रह के दान करें।
 
                                     कुम्भ
                               
                     
      
वर्ष 2018 में आपकी ज़िंदगी में सकारात्मक बदलाव होंगें।
आप अतिरिक्त मेहनत करके लाभ प्राप्त करेंगे, नए कारोबार या नई नॉकरी में आपको परिवर्तन आपको सोच समझ करना होगा, आपकी आर्थिक सिथति पहले से बेहतर होगी, अगर आप कोई कर्ज हैं तो आप इस वर्ष कर्ज चुकाने में सफल हो सकते हैं, निवेश सोच विचार कर करें, गलत निर्णय से धन हानि के योग हैं।
आपके भौतिक सुख साधन में वृद्धि होगी, आय के नए अवसर प्राप्त होंगें। काम के लिए दूर स्थान की यात्रा के योग है। जिसके सुखद परिणाम प्राप्त होंगे।
आपके कार्यक्षेत्र में आपको नाम व प्रसिद्वि मिलेगी।
आपकी सामाजिक पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
पारिवारिक जीवन मिलाजुला रहेगा, 
माता के स्वास्थ्य का खयाल रखें, पिता से मतभेद हो सकते है, संयम रखें।
जीवनसाथी से मनमुटाव हो सकता है, अपशब्दों का इस्तेमाल न करें, 
प्रेमसंबधो में भी शांत रहने की आवश्यकता है, छोटी सी बात पर विवाद हो सकता है। 
धर्म अध्यात्म योग में रुचि बढ़ेगी, नया ज्ञान नया कौशल सीखने में रुचि रहेंगी।
पढ़ाई लिखाई में सुखद परिणाम प्राप्त होंगे।
सवास्थ्य उत्तम रहेगा।
 
                               उपाय
                      
1)-शनिदेव के दर्शन करें, पूजा करें।
2)-हनुमान चालीसा का पाठ करें।
3)-मछलियों को भोजन डाले।
4)-योग्य ज्योतिष को कुंडली दिखा कर नीलम धारण करें।
 
                          
                                 मीन
                 
वर्ष 2018 आपके लिए एक बेहतरीन वर्ष साबित होने के योग हैं। भाग्य का आपको साथ मिलेगा, निवेश में लाभ होगा, जुआ,लॉटरी सट्टा इत्यदि से दूर रहें, प्रोपर्टी में आपको लाभ होगा, दोस्तो सहकर्मियों का सहयोग प्राप्त होगा, 
विदेश संबंधित कार्य में लाभ होगा।
आपको मेहनत अधिक करनी होगी, जिसके आपको सुखद परिणाम प्राप्त होंगें, 
कारोबार में अधिक व्यस्त रहने की वजह से आप घरपरिवार में समय कम दे पाएंगे, यह आपको संतुलन बनाना होगा, वर्ना   घर मे तनाव का माहौल बन जायेगा।
सगे संबंधियों से रिश्ते मधुर व मजबूत होंगे,
प्रेमसंबंध मधुर रहेगें,
पिता के सवास्थ्य का खयाल रखें, जीवनसाथी से मनमुटाव के योग हैं, धैर्य व प्रेम से पारिवारिक समस्याओं का मिलबैठ कर समाधान करें।
दूर स्थान की लंबी यात्रा का योग हैं, विदेश यात्रा का भी योग है, पार्टनरशिप में लाभ के योग है।
जमीन जायदाद का कोई पुराना विवाद सुलझ जायेगा।
पैतृक संपत्ति से लाभ होगा।
 
                               उपाय
        
1)-भगवान शिवजी  का जलाभिषेक करें।
2)-हनुमान जी को चोला चढ़ाये।
3)-घर मे में नियमित रूप से पूजापाठ करें।
4)-योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखा कर पुखराज धारण करें।

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here