logo
India Free Classifieds

दालचीनी और शहद एक साथ खाने से होते हैं ये दस लाभ

1.जोड़ों के दर्द में दालचीनी और शहद का मिश्रण खाने और लगाने दोनों के काम आता है और बहुत अच्छा लाभ भी देता है । खाने के लिये 5 ग्राम शहद और ढाई ग्राम दालचीनी का चूर्ण मिलाकर आधा कप गुनगुने पानी में घोलकर रोज सुबह खाली पेट सेवन करने से दर्द में बहुत अच्छा लाभ मिलता है । दर्द वाली जगह पर लगाने के लिये दालचीनी का चूर्ण और शहद को बराबर मात्रा में लेकर मिलाकर लेप करने से जोड़ों में स्निग्धता आती है और जोड़ों की अकड़न कम होती है ।

2.शरीर की रोग प्रतिरोधी शक्ति बढ़ाने के लिये दालचीनी और शहद का मिश्रण लाभ करता है । इन दोनों में एण्टीऑक्सीडेन्ट गुण पाये जाते हैं । शरीर की रोग प्रतिरोधी शक्ति बढ़ाने के लिये दालचीनी का चूर्ण चौथाई चम्मच लेकर उसको एक चम्मच शहद और 5 मिलीलीटर नीम्बू के रस के साथ मिलाकर दिन में दो बर सेवन किया जाता है । यह साधारण सा प्रयोग शरीर की रोग प्रतिरोधी शक्ति को बढ़ाकर जुखाम खाँसी जैसी बीमारियों से शरीर की रक्षा करता है ।

3.कील मुँहासे और एक्ने की समस्या के लिये भी दालचीनी और उसके साथ शहद को मिलाकर प्रयोग करने से बहुत लाभ होता है । एक चम्मच शहद में आधा चम्मच दालचीनी का चूर्ण मिलाकर उसको चेहरे पर फेसपैक की तरह प्रयोग करने से यह एक्ने की सूजन को कम करता है और उनके अन्दर भरे गन्दे पानी को निकालकर साफ करता है ।

4.दालचीनी और शहद का मिश्रण नींद ना आने की समस्या में भी लाभकारी पाया गया है । गाय के एक गिलास हल्के गुनगुने दूध में आधा चम्मच दालचीनी का चूर्ण और एक चम्मच शहद मिलाकर रात को सोने से पहले पीने से शान्त नींद आती है और बार बार नींद टूटने की समस्या भी नही होती है ।

5.दालचीनी और शहद के मिश्रण का एक लाभ तो आप सभी जानते ही हैं कि ये वजन कम करने के काम आता है । दालचीनी पाचन तंत्र के विकारों को दूर करके आपके हाजमें को ठीक करती है जिससे शरीर का मेटाबॉलिज्म सही होता है ।  जिससे वजन कम करने में सहायता मिलती है ।

6.दिल की मजबूती को बढ़ाकर उसको स्वस्थ बनाने के लिये भी इन दोनों का मिश्रण बहुत कारगर माना गया है । शहद में मौजूद एण्टीऑक्सीडैण्ट और एण्टिइन्फ्लामेटरी शक्ति धमनियों में जमा गन्दगी कोसाफ करके ब्लॉकेज को कम करने का काम करती है ।

7.दालचीनी और शहद का यह मिश्रण शुगर को कण्ट्रोल रखने में भी लाभकारी होता है । दालचीनी शरीर में इन्सुलिन के निर्माण को बढ़ाता है और शरीर में ग्लुकोज की खपत को बढ़ाता है । रोज सुबह नाश्ते में आधा चम्मच दालचीनी और आधा चम्मच शहद को मिलाकर सेवन करने से शरीर में मधुमेह का स्तर नियन्त्रण में बना रहता है ।

8.खाँसी के इलाज के लिये दालचीनी और शहद को मिलाकर सेवन करने का प्रयोग बहुत पुराने समय से किया जाता रहा है । दालचीनी के कीटाणुरोधी गुण और कफनाशक प्रभाव और शहद के एण्टीबॉयोटिक प्रभाव के कारण यह मिश्रण खाँसी के लिये एक बहुत अच्छी औषधि के रूप में अपना प्रभाव दिखाता है । एक गिलास गुनगुने गरम पानी में पहले एक चम्मच शहद डालकर मिलायें और फिर आधा चम्मच दालचीनी का चूर्ण मिलाकर उसको रोज दो बार सेवन करें । सीने में जमा सारा कफ मुँह के रास्ते निकलना शुरू कर देगा ।

9.छोटे मोटे जख्मों को भरने में दालचीनी और शहद का मिश्रण किसी अच्छी दवा की तरह ही अपना प्रभाव दिखाता है । जख्मों पर बाँधने के लिये एक पट्टी की गद्दी बनाकर उस पर शहद को लगायें और दो चुटकी दालचीनी का चूर्ण छिड़क दें । फिर इस पुलटिस को जख्म पर रखकर पट्टी बाँध दें । इसके लाभ आपको चकित कर देंगे ।

10.पेट की समस्याओं जैसे कि पेट में गैस और अफारा रहना और आँतों के सड़ने की दशा में दालचीनी और शहद का मिश्रण आपको बहुत अच्छा लाभ देगा । शहद आँतों में सँचित दोषों को बाहर निकालता है और दालचीनी गैस और अफारे की समस्या को दूर करने के लिये बहुत अच्छी और जाँची परखी हुयी औषधि की तरह अपना प्रभाव दिखाता है । इस लाभ को प्राप्त करने के लिये रोज दो बार एक चम्मच शहद पर दो चुटकी दालचीनी का चूर्ण डालकर सेवन करना चाहिये । यदि इसके बाद गुनगुना पानी भी पिया जाये तो बहुत ही अच्छा परिणाम देता है ।

दालचीनी और शहद के मिश्रण से मिलने वाले लाभों की जानकारी वाले इस लेख में बताये गये सभी प्रयोग हमारी समझ में पूरी तरह से हानिरहित हैं । फिर भी आपके आयुर्वेदिक चिकित्सक के परामर्श के बाद ही इनको प्रयोग करने की हम आपको सलाह देते हैं ।

More Health Tips

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here

Can ask any question