logo
India Free Classifieds

भाग्य चमकाये भाग्यवर्धक बांस

मनुष्य सृष्टि के आरम्भ से ही वनस्पति जगत' से जुड़ा हुआ है,यहाँ तक की कई पेड़ पौधो को हम

पूजते भी है.वास्तु में भी पेड़ पोधो का बहुत महत्व है,कई वृक्ष ऐसे है दिशा विशेष पर होने पर शुभ

अशुभ फल देते है,घर के उत्तर में,पूर्व में,उत्तर- पूर्व में कम ऊचाई वाले पोधे जैसे

तुलसी,गेंदा,आवला,चम्पा,चमेली,मोतिया,आदि लगाने चाहिये। ये पौधे वायु को शुद्ध रखते है,घर

के दक्षिण पश्चिम में में ऊँचे पेड़ जैसे नीम बड़ पीपल आदि हो तो शुभ प्रभाव देते है,ऐसे ही घर में

बांस का पौधा लगाना भी भाग्यवर्धक माना जाता है,चीन में तो बांस के पोधे का उतना ही महत्व

है जितना भारत में पीपल का। बांस का पेड़ विद्युत यंत्र का काम करता है,जहा ये पेड़ लगा होता

है वहा आकाशीय बिजली गिरने की सम्भावना कम हो जाती है,फेंग्सुई में लम्बी आयु के लिये

बांस के पौधे बहुत शक्तिशाली माने  जाते है,बांस प्रतिकूल परस्थिति में भी भरपूर वृद्धि का

प्रतिनिधित्व करते है,और किसी भी प्रकार के तूफानी मौसम का सामना करने की क्षमता रखने

के प्रतिक है,यह पौधा अच्छे स्वास्थ्य का प्रतिक है,यह अच्छे भाग्य का भी संकेत देता है,इसलिये

आप बांस के पौधो का चित्र लगाकर उन्हें शक्तिशाली बना सकते है,

 
अगर आपके लाख प्रयासों के बावजूद नौकरी और व्यवसाय में अच्छी सफलता नहीं मिल रही
 
है,तो आपको अपने घर में बांस का पौधा लगाना चाहिये।अगर आप सोच रहे है की बांस के पौधे
 
में आखिर ऐसी क्या खूबी है जो आपको सफलता दिला सकती है तो हम आपको इसकी खूबी
 
बताते है,
 
बांस संसार का एकमात्र ऐसा पौधा है जो किसी भी वातावरण में तेज़ी से उन्नति करता है,अपने
 
इसी गुण के कारण इसे उन्नति का प्रतिक और समृद्धि देने वाला पौधा माना गया है,फेंग्सुई में
 
बांस के पौधे को दिव्य पौधा कहा जाता है,भारतीय वास्तु विज्ञान में भी बांस को शुभ माना गया
 
है,ऐसा माना गया है की जहा बांस का पौधा होता है वहा बुरी आत्माए नहीं आती
 
है,शादी,जनेऊ,मुंडन में बांस की पूजा एव बांस से मंडप बनाने के पीछे भी यही कारण है,
 
बचपन में भगवान श्री कृष्ण हमेशा अपने पास बांस की बानी बाँसुरी रखते थे। इसका कारण भी
 
संभतः यही था की उनके ऊपर हमेशा आसुरी शक्तियों का भय बना रहता था,आसुरी शक्तियों
 
को कमज़ोर करने एव उनपर विजय पाने में बांसुरी द्वारा उतपन सकारात्मक ऊर्जा से मदद
 
मिलती थी,वास्तु एव फेंग्सुई के अनुसार घर में अगर किसी प्रकार का वास्तु दोष है तो घर के
 
मुख्य द्वार पर दो बांसुरी लटका देना चाहिए,इसके हिलने से जो ऊर्जा उतपन होती है वह वास्तु
 
दोष और नकारात्मक ऊर्जा से घर को मुक्त बनती है,
 
बैडरूम में बेड के ऊपर बीम का होना वास्तु के अनुसार बहुत ही अशुभ  होता है, इससे मानसिक
 
तनाव और दाम्पत्य जीवन में दूरिया बढ़ती है,इस दोष को दूर करने के लिये सबसे आसान
 
तरीका यह है की दो बांसुरी लेकर उसे बीम के दोनो तरफ लाल फिट से बांध दे,इसमें यह ध्यान
 
रहे की बांसुरी का मुह बेड की और रहे। बांस की बांसुरी या पौधा ड्राईनग रूम में लगाने से घर में
 
सुख समृद्धि आती है,मन में आशा का संचार होता है,और मनोबल बढ़ता है,बांस के इन्ही दिव्य
 
गुणों के कारण बांस को जलाना शुभ नहीं माना गया है,                      

More Vastu

ज्योतिष ज्ञान

img

पुत्र प्राप्ति यन्त्र

रविवार के दिन सर्पाक्षी के पत्तो से युक्त डाली लाकर एक...

Click here
img

कुन्डली रहस्य

पंचम भाव में शनि मंगल लग्नेष के साथ हो तो...

Click here
img

संतान का लिंग बताता है चीनी कैलेंडर

मनचाही संतान प्रापित के लिए सवरोदय विज्ञान का...

Click here
img

रत्नों की जांच कैसे हो

कभी भी ज्योतिष की सलाह के बिना रत्न धारण नहीं...

Click here
img

रूद्राक्ष के प्रयोग

यदि मन्त्र षकित (विधान) के साथ धारण किया...

Click here
img

ग्रह दान वस्तु चक्रम

टीका-साधु, ब्रáणों और भूखों को भोजन कराने...

Click here
img

मंगली दोश के उपाय

जातक के लग्न में अषुभ मंगल होने से मंगली दोश बनता हो तो जातक को...

Click here

Can ask any question