वर्ष 2020 में अभी आगे क्या क्या घटनाएं घटने वाली है

वर्ष 2020 में अभी आगे क्या क्या घटनाएं घटने वाली है

वर्ष 2020 में अभी आगे क्या क्या घटनाएं घटने वाली है ज्योतिष के माध्यम से अभी ही जान लीजिए

* दुनिया भर में रहेगी अशांति ...आपसी मतभेद बढ़ेंगे। 
  
* अर्थ व्यवस्था रहेगी डावाँडोल ...शेयर मार्केट कमोडिटी मार्केट में बहुत ज़्यादा आयेगा ..उतार चढ़ाव।  
 
* कई लोगों का पैसा डूब जायेगा और जो क़र्ज़ नहीं चुका पा रहें हैं उनको जेल भी जाना पड़ेगा। 
 
*  लोगों का ...धर्म कर्म की बजाए मांस मदिरा भोग विलास में बढ़ेगा ...रुझान। 
 
* धोखा फ़रेब भ्रम की स्थिति बढ़ेगी अपराध बहुत ज़्यादा होगें दुर्घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि होगी।  
 
* बहुत तेज हवाएँ चलेगी समुद्री तूफ़ान आयेगें प्राकृतिक प्रकोप व महामारी फैलने की आशंका रहेगी। 
 
* सरकार की मनमर्ज़ी  की वजह से जनता परेशान रहेगी नेताओं और आवाम के बीच बेढंगा ...तनाव। 
 
* हार्ट अटैक ज़्यादा होगें ...कमर दर्द और घुटनों के दर्द से लोग रहेंगे ...सबसे ज़्यादा परेशान। 
 
* प्रेम विवाह सर्वाधिक होगें और तलाक़ के मामलों में होंगी बेतहाशा बढ़ोतरी।  
 
* दुष्ट लोगों को मिलेगा कठोर दंड ... बढ़ी संख्या में अपराधियों को दी जायेगी ....फाँसी।  
 
* युवाओं का राजनीति में बढ़ेगा इनटरेस्ट... नेतागीरी में चमकेगा कई लोगों का भाग्य।
 
नव वर्ष 2020 .... अंक ज्योतिष के हिसाब से देखें तो इसका योग ...2+0+2+0=4 आता है और अंक चार का सम्बन्ध राहु ग्रह से माना गया है
 
इसलिए नव वर्ष पर राहु ग्रह का प्रभाव  सबसे अधिक देखने को मिलेगा 
 
ज्योतिष में ...राहु एक छाया ग्रह है ...छाया का तात्पर्य है प्रकाशहीन 
 
अतः इसमें शनि की भाँति बल्कि शनि से भी कुछ बढ़कर प्रकाशहीनता का दोष है 
 
इसलिए इसके गुणों का समावेश एक ही वाक्य में ज्योतिष शास्त्र ने कर दिया गया है की ...शनिवरत् राहु...
 
 शनि की तरहं मूर्ख, शनि की तरहं लंबा,शनि की भाँति अभावात्मक,  शनि की भाँति रोग कारक और शनि की भाँति विलम्ब करने वाला ग्रह है 
 
राहु में एक विशेष गुण अथवा दोष है जो शनि में नहीं है वह यह की राहु में घटनाओं को अकस्मात् घटाने की शक्ति है 
 
शनि और राहु को ज्योतिष में जितना अशुभ बताया गया है यह उससे भी कहीं ज़्यादा शक्तिशाली और धन मान,सम्मान, पद व प्रतिष्ठा देने वाले ग्रह हैं बशर्ते कुंडली में सही स्थिति में हो या हमारे कर्म अच्छे हों।  
 
राहु की सबसे बड़ी खास बात यह भी है की यह व्यक्ति को पहले लालच देता है ...और मायावी होने की वजह से उसे लोभ में फँसाकर फिर उसका विनाश करता है
राहु जब किसी को दंडित करता है तो उसमें सबसे बड़ी भूमिका शनि की होती है क्योंकि शनि ही यह फ़ैसला करता है की क्या दंड देना है ...इसलिए शनि का न्याय प्रिय भी कहा जाता है 
राहु कुंडली के जिस भाव में बैठता है अपनी दशा महादशा में ...उस भाव की राशि के स्वामी का फल देता है।
 
अगर आप राहु के बुरे प्रभावों से बचना चाहते है और इसकी कृपा का पात्र बनना चाहते हैं तो आपको जानकर हैरानी होगी की
 
...यह बहुत ही आसान है और सबसे महत्वपूर्ण बात ...जो लाभ आपको ...यह ग्रह दे सकता है वह अन्य किसी ग्रह के बस की बात
 
भी नहीं है क्योंकि यह अपने फल अकस्मात् और तुरन्त देता है। 
 
राहु की कृपा प्राप्त करने के बहुत ही आसान तरीक़े हैं ...
 
सबसे पहले तो ... किसी भी लोभ लालच के चक्कर में पड़कर कोई ग़लत काम नहीं करें .. किसी को धोखा ना दें।
 
दुसरा... जो लोग गरीब हैं असमर्थ है कमजोर है ज़रूरतमंद है और निम्न स्तर का जीवन जी रहें हैं या छोटी मोटी नौकरी या
 
व्यवसाय से अपना गुज़ारा कर रहें हैं उनकी यथा संभव मदद करें। 
 
तीसरा ...एक बात की क़सम खा लें की ...मैं कभी अपशब्दों का प्रयोग नहीं करूँगा ...आपको जानकर आश्चर्य होगा की राहु अगर
 
सबसे ज़्यादा किसी को परेशान करता है तो किसी को गाली देने या पीठ के पीछे किसी की बुराई करना ...उसका सबसे बडा कारण  होता है।
 
चौथा... किसी को परेशान करके या झुठ बोलकर किसी से धन नहीं लें और सम्पत्ति को लेकर झगड़ा या कोर्ट केस 
जैसे विवादों से बचने की कोशिश करें। 
 
पाँचवाँ...अगर आप कहीं नौकरी करते हैं या स्वयं का व्यवसाय है तो जितनी आपकी सैलरी है या इनकम है तो सबसे पहले अपने
 
आप से सवाल पुछे की .. क्या मुझे जितने पैसे मिलते मैं उतना काम भी करता हूँ मतलब अपनी मेहनत से ज़्यादा नहीं लें। 
 
नोट- जो लोग चाहते हैं की उनके लिए नव वर्ष शुभ रहे .. खूब उन्नति करें उनकी सभी मनोकामनाएँ पुर्ण हो और स्वस्थ्य रहें उनको
 
आज से ही अपने जीवन में बदलाव करना है अपनी आदतों में सुधार करना है और अपनी मानसिकता को चेंज करना है क्योंकि जो
 
जो उपलब्धियाँ आपको इस नये वर्ष में मिल सकती है आपके रूके हुऐ काम पुरे हो सकते हैं और मनोवांछित लाभ मिल सकते हैं
 
उसका सुनहरा अवसर 😊अभी है।  
 
वरना अब तक तो आपको समझ में आ ही गया होगा की नव वर्ष का स्वामी राहु है ... और अगर आप नहीं सुधरे तो नव वर्ष
 
आपके लिए कैसा रहने वाला है।

Talk to Astrologer

Talk to astrologer & get live remedies and accurate predictions.