logo
India Free Classifieds
Helpline: 873 99999 12


व्रत त्यौहार

  *जनवरी 2017*
1, रविवार अंग्रेजी नव वर्ष
3, मंगलवार शुक्ल पंचमी
8, रविवार पुत्रदा एकादशी
12, गुरुवार पौष पूर्णिमा
14, शनिवार मकर संक्रांति
15, रविवार गणेश चतुर्थी
17, मंगलवार कृष्ण पंचमी
23, सोमवार षटतिला एकादशी
24, शनिवार व्रत पूर्णिमा
27,  शुक्रवार मौनी अमावश्या

           *फरवरी 2017*
1, बुधवार वसंत पंचमी
7, मंगलवार जया एकादशी
10, शुक्रवार माघी पूर्णिमा
15, बुधवार कृष्ण पंचमी
22, बुधवार विजया एकादशी
24,शुक्रवार महाशिवरात्रि

           *मार्च 2017*
3, शुक्रवार शुक्ल पंचमी
 8, बुधवार अमला एकादशी
12, रविवार पूर्णिमा होलिका दहन
13, सोमवार सर्वत्र होली
17, शुक्रवार कृष्ण पंचमी
24, शुक्रवार पापमोचनी एकादशी
29, बुधवार "नववर्ष" चैत्र नवरात्र

          *अप्रैल 2017*
1, शनिवार शुक्ल पंचमी
2, रविवार चैती छठ
3, सोमवार महानिशा पूजा
4, मंगलवार दुर्गा अष्टमी
5, बुधवारवार श्रीरामनवमी
6, गुरुवार नवरात्र व्रत पारणा
7, शुक्रवार कामदा एकादशी
10, सोमवार व्रत पूर्णिमा
11, मंगलवार चैती पूर्णिमा
16 रविवार कृष्ण पंचमी
22, शनिवार वरुथनी एकादशी
29, शनिवार अक्षय तृतीया
30, रविवार शुक्ल पंचमी

            *मई 2017*
4,गुरुवार सीता नवमी
6, शनिवार मोहनी एकादशी
10, बुधवार बुद्धपूर्णिमा
16, मंगलवार कृष्ण पंचमी
22, सोमवार अचला एकादशी
25, गुरुवार कृष्ण वटसावित्री व्रत
30, मंगलवार शुक्ल पंचमी

           *जून 2017*
5, सोमवार निर्जला एकादशी
8, गुरुवार व्रत पूर्णिमा
9, शुक्रवार शुक्ल वटसावित्री व्रत
14, बुधवार कृष्ण पंचमी
20, मंगलवार योगिनी एकादशी
28, बुधवार शुक्ल पंचमी

           *जुलाई 2017*
4, मंगलवार हरि शयनी एकादशी
8, शनिवार व्रत पूर्णिमा
9, रविवार गुरु पूर्णिमा
10, सोमवार श्रावण मासारम्भ
14, शुक्रवार कृष्ण पंचमी
19, बुधवार कामदाएकादशी
28, शुक्रवार नागपंचमी

         *अगस्त 2017*
3, गुरुवार पुत्रदा एकादशी
7, सोमवार रक्षाबंधन
11, शुक्रवार बहुला गणेशचौथ
12, शनिवार कृष्ण पंचमी
14, सोमवार श्री कृष्ण जन्माष्टमी
18, शुक्रवार जया एकादशी
21, सोमवार कुशोत्पाटिनी अम.
24, गुरुवार हरितालिका तीज
26, शनिवार ऋषिपंचमी
27, रविवार ललही छठ

          *सितम्बर 2017*
2, शनिवार पद्मा एकादशी
5, मंगलवार अनंत चतुर्दशी, व्रत पूर्णिमा
6, बुधवार भाद्र पूर्णिमा महाल्यारम्भ, पितृ तर्पण
10, रविवार कृष्ण पंचमी
13, बुधवार जीवित्पुत्रिका व्रत
16 शनिवार इंदिरा एकादशी
17, रविवार विश्वकर्मा पूजा
19, मंगलवार पितृविसर्जन
21, गुरुवार शारदीय नवरात्रा
25, सोमवार शुक्ल पंचमी, बिल्वाभिमंत्रण
27, बुधवार महानिशा पूजा
28 गुरुवार दुर्गा अष्टमी
29, शुक्रवार महानवमी हवन
30, शनिवार विजयादशमी

         *अक्टूबर 2017*
1, रविवार पापांकुशा एकादशी
5, गुरुवार शरदपूर्णिमा
10 मंगलवार कृष्ण पंचमी
15, रविवार रम्भा एकादशी
17, मंगलवार धनत्रयोदशी
19, गुरुवार दीपावली
20, शुक्रवार गोवर्धनपूजा
21, शनिवार भैया दूज
24, मंगलवार शुक्ल पंचमी, छठ नहाय खाय
26, गुरुवार सूर्यषष्ठी व्रत
29, रविवार अक्षय नवमी
31, मंगलवार प्रबोधनीएकादशी

          *नवम्बर 2017*
1, बुधवार तुलसी विवाह
3, शुक्रवार व्रत पूर्णिमा
4, शनिवार कार्तिक पूर्णिमा
8, बुधवार कृष्ण पंचमी
14, मंगलवार उत्पन्नाएकादशी
23, गुरुवार विवाह पंचमी
29, बुधवार मोक्षदा एकादशी

        *दिसंबर 2017*
3, रविवार व्रत पूर्णिमा
8, शुक्रवार कृष्ण पंचमी
13, बुधवार सफलाएकादशी
23, शनिवार शुक्ल पंचमी
29, शुक्रवार पुत्रदा एकादशी
        🌹🙏🙏🌹
*सम्पूर्ण वर्ष के सभी व्रत एवं पर्व त्यौहार आप को संपूर्ण प्रसन्नता, सन्मति एवं मधुर सम्पन्नता प्रदान करे,*

करवा चौथ

Karwa Chauth is considered one of the most important fasts observed by the married Hindu women. On this day the women pray for the welfare and long life of their husbands. The festival is followed mainly in the northern parts of the country ...
read more...

सत्यनारायण व्रत

सत्यनारायण व्रतकथापुस्तिका में यह बताया गया है कि सत्यनारायण भगवान की पूजा कैसे की जाय। जो व्यक्ति सत्यनारायण की पूजा का संकल्प लेते हैं उन्हें दिन भर व्रत रखना चाहिए। पूजन स्थल को गाय के गोबर से पवित्र करके वहां एक अल्पना बनाएं और उस पर पूजा की चौकी रखें। इस चौकी के चारों पाये के पास केले का वृक्ष लगाएं। इस चौकी पर ठाकुर जी और श्री...
read more...

नवरात्रि व्रत

नवरात्र में देवी माँ के व्रत रखे जाते हैं । स्थान–स्थान पर देवी माँ की मूर्तियाँ बनाकर उनकी विशेष पूजा की जाती हैं । घरों में भी अनेक स्थानों पर कलश स्थापना कर दुर्गा सप्तशती पाठ आदि होते हैं भगवती के नौ प्रमुख रूप (अवतार) हैं तथा प्रत्येक बार 9-9 दिन ही ये विशिष्ट पूजाएं की जाती हैं। इस काल को नवरात्र कहा जाता है। वर्ष में दो बार भगवती भवानी की विशेष पूजा की जाती है। इनमें एक नवरात्र तो चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से नवमी ...
read more...

विजयादशमी व्रत

Vijayadashami also known as Dussehra is a festival celebrated by all Indians though it's a Hindu festival. This occasion signifies as victory of Good over Evil and people celebrate to bring new things their life. It is celebrated on the tenth day of the bright fortnight Shukla Paksha of the Hindu autumn month of Ashvin...
read more...

गणेशोत्सव व्रत

This colourful festival is a very Maharashtrian one, which is celebrated with great gusto. In fact it is the most popular festival in the State. There are several reasons for this. Ganpati is after all a popular god. His blessings are invoked at most religious ceremonies as he is the god who can remove all obstacles to success. He is the giver of fortune and can help to avoid...
read more...

जन्माष्टमी व्रत

Janmashtami commemorates the earthly appearance of Krishna, who is described in India's sacred writings as God Himself. One of the biggest religious festivals in the world, it is celebrated by nine hundred and thirty million people around the world--and two million in the US alone. To devotees, it's Christmas and New Year's in one, a day of deep spiritual renewal and...
read more...

मकर संक्रां‍ति व्रत

ख़ुशी और समृद्धि का प्रतीक मकर संक्रांति त्यौहार सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने पर मनाया जाता है. भारतवर्ष के विभिन्न प्रान्तों में यह त्यौहार अलग-अलग नाम और परम्परा के अनुसार मनाया जाता है. उत्तर भारत में इसे मकर संक्रांति, पंजाब हरियाणा में लोहरी, असम में बिहू और दक्षिण भारत में पोंगल के नाम से जाना जाता है. इस दिन लोग खिचड़ी बनाकर भगवान सूर्यदेव को ...
read more...

दीपावली व्रत

Lakshmi Pooja, or the worship of the goddess of wealth, is the main event on Diwali in India. It is extremely important to keep the house spotlessly clean and pure on Diwali. Goddess Lakshmi likes cleanliness, and she will visit the cleanest house first. This is also the reason why the broom is worshiped on this day with...
read more...

होली व्रत

कथानुसार श्रीहरि विष्णु के परम भक्त प्रहलाद का पिता दैत्यराज हिरण्यकश्यप नास्तिक और निरंकुश था. उसने अपने पुत्र से विष्णु भक्ति छोड़ने के लिए कहा परन्तु अथक प्रयासो के बाद भी वह सफल नहीं हो सका. तदुपरांत हिरण्यकश्यप ने अपने बेटे की भक्ति को देखते हुए उसे मरवा देने का निर्णय लिया. लेकिन अपने पुत्र को मारने की उसकी कई कोशिशें विफल रहीं इसके बाद...
read more...

महाशिवरात्रि व्रत

महाशिवरात्रि का व्रत फाल्गुन महीने में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को रखा जाता है ( Falgun Krishna Paksha Chaturdashi tithi Mahashivratri)। शिवरात्रि न केवल व्रत है, बल्कि त्यहार और उत्सव भी है. इस दिन भगवान भोलेनाथ का कालेश्वर रूप प्रकट हुआ था. महाकालेश्वर शिव की वह शक्ति हैं जो सृष्टि के अंत के समय...
read more...

अन्य व्रत

एक बार कार्तिक शुक्ल द्वितीया को यमुना ने अपने भाई यमराज को भोजन करने के लिए बुलाया तो यमराज मना न कर सके और बहन के घर चल पड़े. रास्ते में यमराज ने नरक में रहनेवाले जीवों को मुक्त कर दिया. भाई को देखते ही यमुना ने बहुत हर्षित हुई और भाई का स्वागत सत्कार किया. यमुना के प्रेम भरा भोजन ग्रहण करने के बाद प्रसन्न होकर यमराज ने बहन से कुछ मांगने को कहा. यमुना ने उनसे मांगा कि- आप प्रतिवर्ष इस दिन...
read more...

Free Services

img

व्यवसाय

पृथ्वी तत्व वाली राषि वृष, कन्या व मकर के...

Click here
img

शादी में देरी - कारण और निवारण

शादी - ब्याह में देरी के अनेक कारण...

Click here
img

पाया जानने की विधि

शनि के राषि परिवर्तन के समय चन्द्रमा किस...

Click here
img

जन्म सिथति से जाने स्वभाव

रात में जन्मा बालक तामसिक स्वभाव, छिपाकर...

Click here
img

पति - पत्नी में अनबन दुर करने का मन्त्र

पति-पत्नी में अनबन होना आम बात है क्योंकि जहां प्रेम होता है...

Click here
img

गर्भ सिथर रखने का यन्त्र

इस यन्त्र को कपूर, केसर, कसतुरी, गोरोचन, अगर...

Click here

संबंधित ज्योतिष ज्ञान