logo
India Free Classifieds
Helpline: 873 99999 12


धर्म संसार

India is an ancient place jam-packed with belief and story. A land of over a billion folks and maybe just as several ghosts! Republic of India incorporates a made history, old, tragic, jam-packed with death, famine, disease, heartbreak, war. Makes for a rustic jam-packed with haunting. An excellent place I should think to review the paranormal. These ten places were compiled by Squid and believe it or not, Republic of India will have paranormal investigation teams out there. Here at some listed below:

चैत्र नवरात्रि

सम्पूर्ण ब्रह्मांड सूर्य, ग्रह, नक्षत्र, जल, अग्नि, वायु, आकाश, पृथ्वी, पेड़-पौधें, पर्वत, सागर, पशु-पक्षी, देव, दनुज, मनुज, नाग, किंन्नर, गधर्व, सदैव प्राण शक्ति व रक्षा शक्ति की इच्छा से चलायमान हैं।...
read more...

ईद

ईद उल-फ़ित्र शव्वल -- इसलामी कैलंडर के दसवें महीने -- के पहले दिन मनाया जाता है। इसलामी कैलंडर के सभी महीनों की तरह यह भी नए चाँद के दिखने पर शुरू होता है। मुसलमानों का त्योहार ईद मूल रूप से भाईचारे को बढ़ावा देने वाला त्योहार है. इस त्योहार को सभी आपस में मिल के मनाते है और खुदा से सुख-शांति और बरक्कत के लिए...
read more...

विजयादशमी

From time to time, many festivals are celebrated by the Hindus of India. Every festival has its own importance. Dussehara, also known as Vijaya Dashami is the festival which is unique and of great significance...
read more...

करवा चौथ

भारतीय हिन्दू स्त्रियो के लिए "करवाचौथ" का व्रत अखंड सुहाग को देने वाला माना जाता हैं| विवाहित स्त्रियाँ इस दिन अपने पति की दीर्घायु एवं स्वस्थ की मंगल कामना करके भगवान चंद्र को अर्द्ध अर्पित कर व्रत पूर्ण करती हैं|  वास्तव में करवा चौथ का त्यौहार भारतीय संस्कृति के उस पवित्र बंधन का प्रतीक हैं जो पति पत्नी के बीच होता हैं| भारतीय संस्कृति में पति को परमेश्वर को संज्ञा दी गई हैं...
read more...

दीपावली

चौदह वर्षका वनवास समाप्त कर जब श्रीरामप्रभु अयोध्या लौटे, तब प्रजाने दीपोत्सव मनाया । तबसे दीपावली उत्सव मनाया जाता है । दीपावली शब्द दीप   आवली (पंक्ति, कतार) इस प्रकार बना है । इसका अर्थ है, दीपोंकी पंक्ति अथवा कतार । दीपावलीके दिन सर्वत्र दीप लगाए जाते हैं । कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी (धनत्रयोदशी / धनतेरस), कार्तिक कृष्ण...
read more...

जन्माष्टमी

इस सृष्टि में इंसान चाहे कितना भी आगे निकल जाए, चांद सितारों के रहस्य जान ले लेकिन उसका विश्वास भगवान से कभी नहीं उठ सकता. इस संसार में यूं तो भगवान के होने का कोई प्रत्यक्ष साक्षी नहीं है लेकिन इंसान की आस्था में भगवान कभी ना अलग होने वाला तत्व है. इसी आस्था को इंसान भगवान के अलग-अलग रूपों में पूजता है. इसी आस्था की एक...
read more...

मकर संक्रां‍ति

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश करना मकर-संक्रांति कहलाता है. संक्रांति के लगते ही सूर्य उत्तरायण हो जाता है. मान्यता है कि मकर-संक्रांति से सूर्य के उत्तरायण होने पर देवताओं का सूर्योदय होता है और दैत्यों का सूर्यास्त होने पर उनकी रात्रि प्रारंभ हो जाती है. उत्तरायण में दिन बड़े और रातें छोटी होती हैं...
read more...

महाशिवरात्रि

शास्त्र कहते हैं कि संसार में अनेकानेक प्रकार के व्रत, विविध तीर्थस्नान नाना प्रकारेण दान अनेक प्रकार के यज्ञ तरह-तरह के तप तथा जप आदि भी महाशिवरात्रि व्रत की समानता नहीं कर सकते। अतः अपने हित साधनार्थ सभी को इस व्रत का अवश्य पालन करना चाहिए।
read more...

होली

हिरन्यकश्यप राक्षसों के राजा थे | हिरन्यकश्यप के भाई को देवी और देवताओं को आतंकित करने के वजह से भगवान् विष्णु द्वारा मार दिया गया |
read more...

महावीर जयंती

पंचशील सिद्धान्त के प्रर्वतक एवं जैन धर्म के चौबिसवें तीर्थकंर महावीर स्वामी अहिंसा के मूर्तिमान प्रतीक थे। जिस युग में हिंसा, पशुबलि, जाति-पाँति के भेदभाव का बोलबाला था उसी युग में भगवान महावीर ने जन्म लिया। उन्होंने दुनिया को सत्य, अहिंसा जैसे खास उपदेशों के माध्यम से सही राह दिखाने की कोशिश की। अपने अनेक प्रवचनों से मनुष्यों का सही मार्गदर्शन किया। नवीन शोध के अनुसार...
read more...

गणेशोत्सव

Ganesh Chaturthi is celebrated on the 4th day of the bright half of Bhadrapad. This festival marks the birthday of Lord Ganesh. Lord Ganesha or Ganpati is one of the most popular deities in the Hindu religion worshiped by both Shaivites and Vaishnavites. Even Buddhists and Jains have faith for Ganpati. He is considered to be an avatar of both Shiva and Vishnu...
read more...

वसंत पंचमी

Vasant Panchami is the Hindu festival that highlights the coming of spring. This festival is usually celebrated in Magh, which is between the months of January and February in Gregorian calendar. It is celebrated in countries such as India...
read more...

राम नवमी

The birthday of Lord Rama, the celebrated hero of the famous epic, 'Ramayana', is enthusiastically celebrated on the ninth day of the waxing moon in the month of Chaitra, all over India. Lord Vishnu is worshiped in his human incarnation as Rama, the divine ruler of Ayodhya...
read more...

रक्षा बंधन

रक्षाबन्धन एक हिन्दू त्यौहार है जो प्रतिवर्ष श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। श्रावण (सावन) में मनाये जाने के कारण इसे श्रावणी (सावनी) या सलूनो भी कहते हैं। ग्रेगोरियन कैलेण्डर के अनुसार 2012 में रक्षाबन्धन गुरुवार, 2 अगस्त को मनाया गया। रक्षाबन्धन में राखी या रक्षासूत्र का सबसे अधिक महत्व है। राखी कच्चे सूत जैसे सस्ती वस्तु से लेकर रंगीन कलावे, रेशमी धागे, तथा सोने या चाँदी जैसी मँहगी वस्तु...
read more...

श्रीरामचरितमानस

Sri Ram Charit Manas is considered one of the greatest works of Hindi literature, and with its composition the story of Ramayana was available for the first time to the common man to sing and perform, and over time this gave birth to the tradition of Ramlila, dramatic enactment of the text...
read more...

क्रिसमस

The term Christmas is a translation of the Old English version – 'Cristes Maesse' which literally means the "Mass of Christ". It is a traditional holiday in the Christian calendar and the most auspicious Christian festival observed across the globe on December 25th with much fanfare...
read more...

श्राद्ध पर्व

On each day of the dark fortnight (Pitra Paksha), special offerings are made to the ancestors whose lunar date (Tithi) of death corresponds to that particular day. Favourite food items of the departed person are specially prepared and offered after performing a puja . One must offer food to Brahmin and donate Yatha...
read more...

श्रीमद्‍भगवतगीता

Namaste! Welcome to the Bhagavad- Gita online. We are happy you have arrived and it will be our pleasure to serve you. Here you will be presented transcendental knowledge of the most profound spiritual nature as revealed in the Bhagavad- Gita. It is the divine discourse spoken by the Supreme Lord Krishna Himself and is the...
read more...

नानक जयंती

तोहिद की यह आवाज बुलंद करके वर्ण, वर्ग, पाखंड, आडंबर, ऊंच-नीच और कर्मकांड में जकडे़ इंसानों को झंझोड़कर उठाने वाले निरंकारी गुरु नानक थे। जिनका जन्म सन् 1469 की कार्तिक पूर्णिमा को तलवंडी पंजाब में हुआ। युगांतकारी युगदृष्टा गुरुनानक का मिशन मानवतावादी था। उनका चिंतन मानवीय धर्म के सत्य शाश्वत मूल्यों का मूल आधार था।...
read more...

सत्यनारायण व्रतकथा

सत्यनारायण भगवान की कथा लोक में प्रचलित है। कुछ लोग मनौती पूरी होने पर, कुछ अन्य नियमित रूप से इस कथा का आयोजन करते हैं। सत्यनारायण व्रतकथाके दो भाग हैं, व्रत-पूजा एवं कथा। सत्यनारायण व्रतकथास्कंदपुराणके रेवाखंडसे संकलित की गई है।...
read more...

बुद्ध जयंती

बुद्ध पूर्णिमा या बुद्ध जयंती बौद्ध धर्म के भगवान बुद्ध के संस्थापक के सम्मान में मनाया जाता है. यह बौद्ध धर्म का महत्वपूर्ण त्योहार है और महान उत्साह के साथ मनाया जाता है . उसी दिन, भगवान् बुद्ध को आत्मज्ञान मिल गया था और निर्वाण या मोक्ष प्राप्त करा कुछ लोगों का मानना है कि "यशोदरा" गौतम पत्नी, उसकी सारथी चन्ना और अपने घोड़े कंटका बुद्ध पूर्णिमा के दिन पैदा हुए थे. इस दिन तीर्थयात्री बुद्ध पूर्णिमा उत्सव में भाग लेने के लिए दुनिया भर से बोधगया के लिए आते हैं...
read more...

एकादशी व्रत कथा

सभी उपवासों में एकाद्शी व्रत श्रेष्ठतम कहा गया है. एकाद्शी व्रत की महिमा कुछ इस प्रकार की है, जैसे सितारों से झिलमिलाती रात में पूर्णिमा के चांद की होती है. इस व्रत को रखते वाले व्यक्ति को अपने चित, इंद्रियों, आहार और व्यवहार पर संयम रखना होता है. एकाद्शी व्रत का उपवास व्यक्ति को अर्थ-काम से ऊपर उठकर मोक्ष और धर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता है...
read more...

आरती/चालीसा

Aartis are the verses or sonnets (poetic or lyrical), in the introductory or in the form of praise of a God. In this section we bring a collection of aartis (devotional songs) for various Indian gods and goddesses. Aarti (Hindi आरती), also spelled arathi, aarthi (from the Sanskrit word "आरात्रिक" with the...
read more...

Free Services

img

व्यवसाय

पृथ्वी तत्व वाली राषि वृष, कन्या व मकर के...

Click here
img

शादी में देरी - कारण और निवारण

शादी - ब्याह में देरी के अनेक कारण...

Click here
img

पाया जानने की विधि

शनि के राषि परिवर्तन के समय चन्द्रमा किस...

Click here
img

जन्म सिथति से जाने स्वभाव

रात में जन्मा बालक तामसिक स्वभाव, छिपाकर...

Click here
img

पति - पत्नी में अनबन दुर करने का मन्त्र

पति-पत्नी में अनबन होना आम बात है क्योंकि जहां प्रेम होता है...

Click here
img

गर्भ सिथर रखने का यन्त्र

इस यन्त्र को कपूर, केसर, कसतुरी, गोरोचन, अगर...

Click here

संबंधित ज्योतिष ज्ञान