diwali-diya7

मनो कामना पूर्ति के लिए धनतेरस पर खरीदे ये चीज़े घर आएगी सुख समृद्धि

दिवाली एक ऐसा त्यौहार है जब लोग घर पर नई नई चीज़े लाते है घर को सजाने के लिए, शगुन के लिए लेकिन इस बारे में आपको पता होना चाहिए

धनतेरस को बहुत ही शुभ दिन माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन खरीदारी करना शुभ होता है और घर में शुभता लेकर आता है. इस दिन खरीदारी करने से मां लक्ष्मी और धन के देवता कुबेर प्रसन्न होते हैं और धन सम्पति  प्राप्ति का वरदान देते हैं.

इस बार धनतेरस 17 अक्टूबर को है. वैसे तो कहते हैं कि धनतेरस का दिन इतना शुभ होता है व्यक्ति  पूरे दिन में कभी भी खरीदारी करे तो वह अच्छा ही होगा. हर धनतेरस पर खरीदारी करने का शुभ समय होता है, जिसमें खरीदारी करने पर ज्यादा फल की प्राप्ति होती है.

किस तरह की मनोकामना की पूर्ति के लिए क्या खरीदें…

धनतेरस के दिन अपनी अलग-अलग इच्छा की पूर्ति के लिए ही चीजें खरीदें…

आर्थिक लाभ के लिए : अगर आप आर्थ‍िक लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो धनतेरस के दिन पानी का बर्तन खरीदें.

कारोबार में विस्तार और उन्नति के लिए : धातु का दीपक खरीदना अच्छा होगा.

संतान सम्बन्धी समस्या के लिए : थाली या कटोरी

स्वास्थ्य और आयु के लिए : धातु की घंटी खरीदे

घर में सुख शांति और प्रेम के लिए : खाना पकाने का बर्तन

धनतेरस पर पूजा का मुहूर्त और खरीदारी का मुहूर्त क्या होगा

धनतेरस के दिन शाम 07.30 से 09.00 के बीच में खरीदारी करने का शुभ समय है. पूजा का शुभ समय भी यही है. इसलिए इसी समय में पूजा उपासना भी करें.

इस समय ना करें खरीदारी :

धनतेरस के दिन अगर आप पूरे दिन खरीदारी करने की सोच रहे हैं तो अपना इरादा बदल दें. क्योंकि, सायं 03.00 से 04.30 के बीच पूजन और खरीदारी का शुभ मुहूर्त नहीं है. इस बीच खरीदारी या पूजन ना करें. ऐसा करना अशुभ होगा.

इन मन्त्रों का करें जाप… 

- ॐ ह्रीं कुबेराय नमः

- ‘यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धन-धान्य अधिपतये धन-धान्य समृद्धि मे देहि दापय स्वाहा’

Astrology Remedies to Bring Lost Love Back In Relationship

Astrology Remedies to Bring Lost Love Back In Relationship

Lost love over a time of relation, it doesn’t means that, couple are not excited to spend time with spouse or they can’t want to spend times with spouse for long times, of course, they do, In fact,  they have felt but over times they settle down in the environment and around the people, consequence love get faded.  Here are astrology remedies to bring lost love back in a relationship which is provided by our best astrology specialist to keep this thing in mind.  You might find yourself in this situation, well, you are not the only one, and there are lots of the couples who are going through such complicated situation which isn’t easy to deal.  If you indeed want to get lost love back in a relation which is faded cause of having a deficiency of times and lack of communication then at once you need to make a consult with astrology specialist.  They will suggest you appropriate remedies by which love and affection will rekindle in your relation and your relation work as you visualize.

Astrology remedies to reconcile a relation

Once time passes in a relation, often harmony and affection glassy in a relation and consequence of this couple get separated to each other.  Although, some of the couples can survive their relation from unwanted issues and make quality time together. This is the reason, their relation work of overtimes. But you know all people aren’t same this is the reason affection and harmony get fizzle out and couple thing that survives relation is useless, for that reason, they get out. Well, you indeed want to get back together then here is Astrology remedies to reconcile a relation, our best astrologer will suggest you that by which all issues will disappear from your relation and gradually you both will come back together forever and spend lovely times as before.

 

परीक्षा और इंटरव्यू में फटाफट सफलता के लिए करें 

परीक्षा और इंटरव्यू में फटाफट सफलता के लिए करें 

हर विद्यार्थी वर्ष भर अपनी पढ़ाई में कठिन परिश्रम करता है ताकि परीक्षा में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सके, वैसे ही प्रतियोगिता परीक्षा देने वाले  विद्यार्थी भी पढ़ाई के लिए  रात  दिन एक करते है। अपने भाग्य और कड़ी मेहनत के बल पर ही कोई भी विद्यार्थी परीक्षा में श्रेष्ठ अंकों में उत्तीर्ण हो सकता है।  लेकिन कई बार भाग्य की बाधा  के कारण कठिन परिश्रम करने के बाद भी कई विद्यार्थी को उचित परिणाम नहीं मिल  पता है। इस कारण निराश हो जाते है और कई  विद्यार्थी आत्महत्या कर लेते है।   अगर आप भी परेशान  है और कड़ी मेहनत के  बावजूद भी आपको सफलता नहीं मिल रही है तो यहां पर अचूक उपाय बताये गए है।  जिसकी मदद से आप आसानी से परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हो।

ब्राम्ही का सेवन करने वाले विद्यार्थी परीक्षा में सफल होते हैं।

विद्यार्थियों को परीक्षा में उत्तर भूल जाने की आदत हो, तो  परीक्षा में अपने पास कपूर और फिटकरी रखनी चाहिए। यह नकारात्मक ऊर्जा को हटाते हैं।

भगवान गणेश को हर बुधवार के दिन दूर्वा चढ़ाने से  विद्यार्थियों में कुशाग्र बुद्धि विकसित होती है।

परीक्षा में जाने से पूर्व मीठे दही पर तुलसी के पत्ते रखकर ग्रहण करके घर से निकलें।

कठिन विषय की पाठ्य  पुस्तकों में गुरुवार के दिन मोरपंख रखें।

विद्यार्थियों को पठाई करते समय अपना मुंह पूर्व या उत्तर की ओर रखना चाहिए।

नवरात्रि में घर ले आये इनमे से कोई एक चीज किस्मत बदल देगी माता रानी

नवरात्रि में घर ले आये इनमे से कोई एक चीज किस्मत बदल देगी माता रानी

नवरात्रि में माँ की पूजा अर्चना  का विशेष माना जाता है। अगर नवरात्रि में कोई विशि विधान से माँ की पूजा अर्चना करे तो उसकी हर मनोकामना पूरी होती है।  वास्तु शास्त्रों के अनुसार कुछ ऐसी वास्तु बताई गयी है जिनका खास संबंध किसी विशेष देवी-देवता या दिन से माना जाता है। वास्तु के अनुसार, अगर  नवरात्र के दौरान घर में वास्तु लाई जाएं तो देवी प्रसन्न होती हैं और घर-परिवार पर देवी की विशेष कृपा बनी रहती है।

आईये जानते है उन वस्तु के बारे में।

देवी लक्ष्मी की तस्वीर :- देवी लक्ष्मी  की तस्वीर घर ले आये। जिसमे माँ कमल के फूल पर विराजमान हो।  इससे माँ लक्ष्मी और दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त होगा।

मोर पंख :-  मोर पंख को माँ सरस्वती का  वाहन माना गया है।  मोर पंख को नवरात्रि के दौरान घर ले आये और उसे घर के मंदिर में रख दे।  इससे माँ की कृपा  होगी और घर में सुख शांति आएगी।

सोलह श्रृंगार का सामान :-  माँ को सोलह श्रृंगार चढाने से माँ की कृपा होती है।   नवरात्रि में  सोलह श्रृंगार ले आये और माँ दुर्गा को चढ़ाये। इससे माँ का आशीर्वाद मिलेगा और मनोकामना पूर्ण होगी।

नवरात्रि के दौरान घर में चांदी और सोने का सिक्का लाना अच्छा माना जाता है।  इससे माँ लक्ष्मी और नौ  देवियों का आशीर्वाद आपको प्राप्त होगा।

 

 

 

 

क्यों सजना सवरना चाहिए स्त्री को जाने इसके पीछे का रहस्य

क्यों सजना सवरना चाहिए स्त्री को जाने इसके पीछे का रहस्य

ज्योतिष शास्त्र में स्त्री को शुक्र की संज्ञा दी गयी है। ऐसा कहा जाता है कि जब कोई स्त्री अपने आप को सजती सवारती है तो उस कि कुंडली में ना ही शुक्र ग्रह बेहतर होता है बल्कि उसके साथ साथ उसके पति की किस्मत पर भी अच्छा प्रभाव पड़ता है। शुक्र जिसके जन्मांश लग्नेश केंद्र में त्रिकोणगत हों वह आकर्षक प्रेम सौंदर्य का प्रतीक बन जाता है।

अक्सर लोग सोचते है की किस्मत में तो जो लिखा गया वही होगा और मिलेगा, लेकिन नहीं किस्मत में सिर्फ आपके कर्म लिखे होते हैं।  यदि आप अपने कर्म निखार लेते हो तो किस्मत भी अच्छी हो जाएगी।  आज हम शुक्र पर चर्चा कर रहे है।  अगर आपकी  कुंडली में ग्रहो की स्थिति बेहतर होने से बेहतर फल प्राप्त होते हैं। वहीं ग्रह स्थिति अशुभ होने की दशा में अशुभ फल भी प्राप्त होते हैं। बलवान ग्रह स्थिति स्वस्थ सुंदर आकर्षण की स्थितियों की जन्मदाता बनती हैं तो निर्बल ग्रह स्थिति शोक संताप विपत्ति की प्रतीक बनती हैं।  अगर हम आसपास देखे जो स्त्रिया सजी सवरी दिखती है उनके पतिओं की पहले से समय के साथ साथ आर्थिक स्थिति भी बेहतर दिखेगी।  क्योकि शुक्र एक लग्जरी ग्रह है।  यदि अपनी पत्नी या प्रेमिका के वस्त्रों पर या उनके साज सजा पर आप खर्च करोगे तो आप अपनी आय में उसी प्रकार से वृद्धि पाओगे। स्त्रियों को सदैव अपने आप को सवार कर रहना चाहिए। आमतौर पर स्त्रियां सुबह नहा कर तैयार होने के बाद दुबारा गौर नहीं करती परन्तु शुक्र का समय शाम का है। इसलिए दुपहर ढलने के बाद एक बार पुनः जरूर तैयार हों। इससे आप की व आपके पति / प्रेमी की आय एवं लाइफ स्टाइल पर सकारात्मक प्रभाव जरूर पड़ेगा।

 

 

प्रबल स्त्री वशीकरण मंत्र

प्रबल स्त्री वशीकरण मंत्र

प्रबल स्त्री वशीकरण मंत्र एक बहुत ही पावरफुल और असरदारक मंत्र है। जिसका उपयोग करने से आप किसी भी स्त्री को वश में कर  सकते है।

अगर आपका वैवाहिक जीवन सही से नहीं चल रहा या आपकी पत्नी और आपके बीच प्यार नहीं है।  आपकी पत्नी  आपसे दुरी  बना रही है।  या आप किसी लड़की को  चाहते है हो तो इस प्रबल स्त्री वशीकरण की मदद से पत्नी और अपनी प्रेमीका को वश में कर सकते है।

रात में सोते समय पलंग पर देसी कपूर रख दे। अगले दिन सुबह सूर्योदय के समय उस कपूर को जला दे।  इससे आपकी पत्नी आपकी और आकर्षित होगी और आपके बीच में प्यार और स्नेह बना रहेगा।  साथ ही आपसी लड़ाई भी ख़त्म हो जाएगी।

बरगद का हरा पत्ता लेकर उस पर लाल चंदन को गंगा जल में घिसकर आपकी पत्नी और प्रेमिका का   नाम लिखें। इसके बाद पत्ते पर लाल गुलाब की पत्तियां रख दें और इन सबको बारीक पीस लें। अपनी पत्नी और प्रेमिका के नाम में जितने अक्षर हैं, इस बारीक बुरादे की उतनी ही गोलियां बना लें। रोजाना एक गोली नियम से उस व्यक्ति/ महिला के घर के मेन गेट पर फेंक दें। जल्दी ही दोनों के बीच विछोह दूर होकर आपसी संबंध अनुकूल होंगे तथा फिर से रिलेशन में प्यार और स्नहे उतपन होगा।

पत्नी का प्यार वापस  पाने के लिये बेल के तीन पत्तों पर अपने पति का नाम गोरोंचन हल्दी का घोल बनाकर मोर पंख की कलम से लिख कर चांदी की डिबिया में भर कर माता के चरणों में रख दें।  जिससे आपकी पत्नी आपकी और आकर्षित  होगी और आपके बीच में प्यार और स्नहे बना रहेगा।

फंसा हुआ धन प्राप्त करने के उपाय

फंसा हुआ धन प्राप्त करने के उपाय

 

कई बार लोग किसी को अपना धन देते है। या तो किसी बिजनेस,  दुकान, मकान, प्लाट, किसी कंपनी या किसी सरकारी विभागों से कोई काम निकलवाने के धन दे देते है  लेकिन कई बार वो समय के साथ लौटाता नहीं है।  इससे कई काम बिगड़ जाते है और किसी से अपना धन निकलवाना एक सिर दर्द बन  जाता है।  रिलेशन खराब हो जाते है। अगर आप भी इस परिस्थिति में है और किसी से उधार धन निकलवाने के हर संभव कार्य कर लिए लेकिन अभी तक सम्भव नहीं हो पाया तो आप यह पर कुछ उपाय दिए गए है जिसकी मदद से आप अटका हुआ धन आसानी से निकलवा सकते है।

यदि आपका धन किसी के पास फंस गया है और वह उसे वापस नहीं कर रहा या देने से इंकार कर दिया तो आप रोज सुबह नहाने के पश्चात एक ताम्बे के पात्र में जल लेकर उसमें लाल मिर्च के 11 बीज डालकर सूर्यदेव को जल अर्पण करे उनसे अपने पैसे वापसी के लिए प्रार्थना करें।। इसके साथ ही “ओम आदित्याय नमः” की नित्य एक माला का जाप करें। इससे  ऋणी का मन धन देने के प्रति परिवर्तित होगा।

यदि आपने धन किसी रिश्तेदार को दिया लेकिन वो धन लौटाने का नाम नहीं ले रहा।  और आप सम्बन्ध ख़राब होने से डर  रहे है तो  शुक्रवार को कपूर को जला कर उसका काजल बना ले। फिर एक भोजपत्र पर उस व्यक्ति का नाम लिखे जिसके पास आपका धन है। इसके बाद आप उस कागज़ पर 7 बार थपकी देते हुए उस व्यक्ति से अपने धन की वापसी के लिए कहें फिर उस भोजपत्र को अपनी तिजोरी / अलमारी / बक्सा जहाँ पर आप धन रखते है उसके नीचे दबा दें।

बहुत जल्दी ही सभी धन लोटा देंगे। अधिक जानकारी के लिए आप हमारे विशेषज्ञ से सम्पर्क कर सकते है।

मनपसंद जीवन साथी पाने के उपाय

मनपसंद जीवन साथी पाने के उपाय

 

कई बार कुंडली में ऐसे कई  कारक होते है जिसके कारण विवाह में देरी होती है। कई रुकावट और मन पसंद शादी करने की कई बाधाये आती है।

कई बार कुंडली में दोष के कारण शादी में देरी होती है और रिश्ते बनते बनते बिगड़ जाते है।  अगर आप भी इस दौर से गुजर रहे  है और मन पसंद शादी करना चाहते है तो यह पर कुछ उपाय दिए गए है जिसकी मदद से आप मन पसंद जीवन साथी चुन सकते है।  आईये जानते है अचूक उपाय।

 

कुंडली में आ रही शादी की बाधा को दूर करने के लिए युवक युवती को  हर सोमवार को 1200 ग्राम चने की दाल और सवा लीटर कच्चे दूध का दान करे।  यह प्रयोग तब तक करे जब तक की विवाह ना हो जाये।

 

जब किसी युवती के विवाह में परेशानी आ रही है तो। जब भी किसी  लड़की की शादी में जाये तो  दुल्हन से  थोड़ी  सी मेहँदी अपने हाथो में लगवाए।  और हल्दी करे इससे विवाह के  योग जल्दी बनते है।

 

युवती की शादी जल्दी करने के लिए वो सफेद खरगोश पाले और उसको हाथो से खाना  खिलाये।

 

जब भी कन्या के विवाह का प्रस्ताव लेकर जाये तब उस कन्या को लाल वस्त्र  पहन कर  उन्हें मिष्ठान खिला कर विदा करे।

 

यदि किसी युवक के विवाह में कठिनाई आ रही है तो  बुधवार के दिन भगवन गणेश जी को पीले लडू अर्पित करे।

 

यदि कन्या के विवाह में परेशानी आ रही है तो भगवान गणेश जी को मालपुए का भोग लगाए। तो शीघ्र  ही उनका विवाह हो जाता है।

 

मनपसंद विवाह करने के लिए गुरुवार के दिन व्रत रहे और भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी की पूजा करे।  साथ ही ॐ नमो नारायण नम: मंत्र का जाप करे।  और मन ही मन अपने प्रेम विवाह के बारे में ध्यान करे।

इन उपाय से विवाह में आ रही कठिनाई जल्द ही ख़त्म हो जाएगी। अगर आप किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे है या इन उपाय को करने में किसी भी प्रकार की बाधा आ रही हो तो आप हमारे विशेषज्ञ से सम्पर्क कर सकते है।

शनिवार को करें इन चीजों का दान तो दूर होंगे शनि के दोष मिलेगा धन लाभ।

शनिवार को करें इन चीजों का दान तो दूर होंगे शनि के दोष मिलेगा धन लाभ।

ऐसा माना जाता है की शनिदेव ही हमारे कर्मों के अनुसार शुभ या अशुभ फल प्रदान करते हैं। यदि कुंडली में शनि अशुभ स्थिति में हो तो व्यक्ति को कार्यों में आसानी से सफलता नहीं मिल पाती है।  इस परिस्थिति  में व्यक्ति को कई  समस्या का सामना करना पड़ता है।  और साथ ही घर की बरकत भी खत्म होने लगती है।

अपनी इच्छा  के अनुसार  काले तिल, काले कपड़े, लोहे का बर्तन, उड़द की दाल,  कंबल आदि का दान करे।  इससे शनि के दोष प्रभाव खत्म होने और शुभ फल की प्राप्ति होगी।

ऐसा कहा  जाता है जो कोई हनुमान जी की पूजा करता है उसे कभी भी शनि के दोष प्रभाव का सामना नहीं करना पड़ता है।  बंदरो को गुड़ और चने खिलाये।  हर शनिवार को हनुमान चालीसा का पाठ करे।

शनि दोष को ख़त्म करने के लिए और धन  की प्राप्ति के लिए रोज सुबह स्नान करने के बाद एक कटोरी  म तेल  ले उसमे अपना चेहरा देखकर  किसी जरूरत मंद को दान करे।  जिससे शनि देव प्रसन्न होंगे।

शनिवार के दिन शिवलिंग पर जल अर्पित करे।  जला अर्पित करने के लिए ताम्बे के लोटे का उपयो करे उसमे काले तिल डाल दे।   जिससे शनि देव आपसे प्रसन्न होंगे और आप धन लाभ होगा।

हर शनिवार के दिन शनि देव को नीले रंग के फूल चढ़ाये।  पूजा करे।   शनि मंत्र ॐ शं  शनैश्चराय नम: मंत्र का जाप करे।

इन 4 से बचें नहीं तो माँ लक्ष्मी हो जाती है नाराज

इन 4 से बचें नहीं तो माँ लक्ष्मी हो जाती है नाराज

माँ लक्ष्मी की असीम अनुकृपा हर किसी पर नहीं होती है लेकिन हर कोई माँ की अनुकृपा प्राप्त करने के लिए प्राथना करते है।  कई बार पूजा पाठ करने  के बाद भी उचित फल की प्राप्ति नहीं होती है।  और कई परेशनियो और पैसो की कमी का सामना करना पड़ता है।  ज्योतिष शास्त्रों में इसके पीछे के कई कारण बताये है।  जिसके कारण माँ लक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं होती है और कई दुखो और परेशानियों  का  सामना करना पड़ता है।

आईये जानते है माँ लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए किन चीजों को करने से बचना चाहिए।

पूजा करते समय या कोई  कभी काम करते समय ऊंघना नहीं चाहिए।  ऐसा करने पर माँ लक्ष्मी की कृपा नहीं मिलती है।

बहुत ज्यादा सोना :- जरूरत से ज्यादा सोना  दरिद्रता का कारण माना जाता है।  ज्यादा सोना और समय का खोना है।  इसलिए हमे उतना ही सोना चाहिए जितना स्वस्थ के लिए लाभदायक हो।  इससे माँ लक्ष्मी की कृपा भी बनी रहती है।

 

आलस्य :- आलस्य  सफलता के मार्ग में सबसे बड़ी बाधा है। सफलता और समृद्धि के लिए सबसे पहले आलस्य को छोड़ना चाहिए।  आलस्य दूर होगा तो काम भी पुरे होंगे और माँ लक्ष्मी की कृपा भी होगी।

 

क्रोध :- क्रोध व्यक्ति ले कार्य की सबसे बड़ी रुकावट है।  जहा पर इंसान क्रोध करता है वहा पर माँ लक्ष्मी का निवास नहीं होता है।  इसलिए क्रोध को कभी खुद पर हावी ना होने दे।

जिस घर में होता है ये पौधा, उसे छोड़कर नहीं जातीं देवी लक्ष्मी

जिस घर में होता है ये पौधा, उसे छोड़कर नहीं जातीं देवी लक्ष्मी

 

हमारी संस्कृति में वृक्षों को देवता का रूप माना जाता है। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार कुछ पौधे ऐसे होते है जिनको रोपने , जल चढाने और पूजा करने से समस्याओ का समाधान होता है।  आज हम ऐसे ही पौधे के बारे में बात करने जा रहे है।

तुलसी

जिस घर में रोज तुलसी की पूजा होती है। उस घर में हमेशा सुख समृद्धि और वैभव बना रहता है और देवी लक्ष्मी उस घर को कभी छोड़ कर नहीं जाती है।

पीपल

हिन्दू धर्म में पीपल के पौधे का विशेष महत्व होता है। शास्त्रों के अनुसार पीपल की पूजा करने से भगवान विष्णु की कृपा होती है और शनि दोष से मुक्ति मिलती है।

बरगद

इसको वट और बड़ वृक्ष भी बोलते है। जो स्त्रिया इसकी पूजा करती है उसका सौभाग्य अखण्ड रहता है और संतान संबंधित समस्या दूर होती है।

आंवला

शास्त्रों के अनुसार आंवले के पेड़ की पूजा करने से माँ लक्ष्मी की कृपा होती है।  पूजा करने वाले को धन संबंधित परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है।

 

बिल्व

बिल्व के पते शिवजी को चढ़ते है। शिवलिंग पर बिल्व पते चढ़ाने से नौकरी में प्रमोशन का योग बनता है।

पाना चाहते हैं सरकारी नौकरी तो करें ये उपाय, जल्दी मिलेगी सफलता

पाना चाहते हैं सरकारी नौकरी तो करें ये उपाय, जल्दी मिलेगी सफलता

 

काफी लोगो का सपना सरकारी नौकरी पाना होता है।  लेकिन कई जतन करने के बाद भी यह सम्भव नहीं होता है। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार कुंडली में कुछ ग्रह दोष होते है जिसके कारण कठिन परिश्रम करने के बाद भी सरकारी नौकरी पाना मुश्किल सा लगता है।  लेकिन ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार उपाय करने से सारे ग्रह दोष से दूर हो जाते  है। अगर आप इस प्रकार की समस्या से गुजर रहे है तो जल्द कीजिये ये उपाय।

सरकारी  नौकरी  पाने के लिए सूर्य, गुरु और शनि ग्रह संबंधित उपाय करने चाहिए।

सूर्य ग्रह :-  सूर्य ग्रह के लिए रोज सुबह जल्द स्नान कर के आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करे।  ताम्बे के लोटे से जल चढ़ाये।

सूर्य को जल चढ़ाते समय ॐ घृणि सूर्याय नम: या गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए।

कुंडली में गुरु ग्रह के अगर सही योग नहीं होते है तो भी सरकारी नौकरी पाने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।  गुरु ग्रह  के लिए भगवान शिव की पूजा करे और पीली  वस्तुओ का दान करे।  जिससे दोष दूर  होंगे।

हर शनिवार शनि मंदिर जाये। वहा पर शनि देव के मंत्र शं  शनैश्चराय नम:  का जाप कम से कम १०८ बार करे।